बजट सत्र से पहले सभी सांसदों का करवा दिया जाय टीकाकरण, अजय आलोक ने की PM मोदी से अपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देशभर में टीकाकरण की शुरुवात की, दिल्ली के एम्स में कोरोना वायरस का पहला टीका लगाया गया, उसके बाद AIIMS के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने टीकाकरण करवाया ताकि कोरोना वैक्सीन को लेकर सभी आशंकाओं, अफवाहों और भ्रम से निजात मिल सके, हालाँकि दूसरी तरफ विपक्ष का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वैक्सीन क्यों नहीं ले रहे हैं, इन सबके बीच जदयू नेता अजय अलग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की है कि बाजत सत्र से पहले सभी सांसदों ( लोकसभा, राज्यसभा ) का टीकाकरण होना चाहिए ताकि बजट सत्र आराम से चले और अफवाहों को भी विराम मिले।

जनता दल यूनाइटेड ( जदयू ) के नेता डॉ अजय आलोक ने अपने ट्वीट में लिखा, मौजूदा बजट सत्र को देखते हुए माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से अनुरोध हैं की दोनो सदनो ( राज्यसभा, लोकसभा ) के सदस्यों को और दोनो सदनो के कर्मचारियों का टीकाकरण पहले करवा दे और यही व्यवस्था राज्यों में भी हो जाए ताकि राज्य और केंद्र में बजट सत्र आराम से चले, इससे अफ़वाहों पे भी विराम लगेगा, जय हिंद।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टीका क्यों नहीं लगवा रहे, इस सवाल का जवाब देते हुए डॉ अजय आलोक ने कहा कि महेश शर्मा ने ली वैक्सीन, डॉ रणदीप गुलेरिया ने वैक्सीन ली, निति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने वैक्सीन ली, अजय अलोक ने आगे कहा कि नीति आयोग के सदस्य को कैविनेट का दर्जा होता है।

शुरू से कोरोना वैक्सीन पर सवाल उठा रही कांग्रेस ने टीकाकरण शुरू होने के बाद भी सवाल उठा दिया है, कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने ट्वीट कर कहा कि टीकाकरण अभियान शुरू हो चुका है. लेकिन ये थोड़ा पेचीदा है. देश के पास ऐसा कोई नीतिगत फ्रेमवर्क नहीं है, जो वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत देता हो, फिर भी मोदी सरकार ने जल्दबाजी में इजाजत दे दी।