3500 करोड़ के बाइक बोट घोटाले में आरोपी मोंटू भसीन को UP पुलिस ने किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा मेरठ की टीम को बाइक वोट घोटाले में एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है, टीम ने बीती रात ग्रेटर नोएडा से वेनिस मॉल के मालिक सत्येंद्र भसीन उर्फ मोंटू को गिरफ्तार किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, मोंटू भसीन ने बाइक बोट कंपनी के 98 करोड़ रुपए मॉल में निवेश किए थे, यह पैसा घोटाले को अंजाम देने वाली कम्पनी से हासिल किया गया था। मोंटू भसीन पर बाइक बोट कंपनी के रुपए अपने मॉल में निवेश करने का आरोप है।

बाइक बोट कंपनी के एमडी संजय भाटी ने 98 करोड़ रुपए मोंटू भसीन के खाते में ट्रांसफर कर दिए थे। इन पैसों के लेनदेन की जानकारी ईओडब्ल्यू की टीम को हुई थी। सत्येंद्र भसीन ने धोखाधड़ी करके बाइक बोट कंपनी का पैसा अपने मॉल में निवेश करा लिया था। पुलिस की जांच में इस संबंध में पता चला है कि मॉल के मालिक ने यह पैसा लेकर संजय भाटी की कम्पनी के नाम एक फर्जी अलॉटमेंट जारी किया था।

मेरठ टीम ने मोंटू भसीन को रातभर कोतवाली में रखा। दादरी कोतवाली में ही बाइक बोट से संबंधित मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस आज मोंटू भसीन को कोर्ट में पेश करेगी। इससे पहले भी वेनिस मॉल घोटाले में गौतमबुद्ध नगर पुलिस सतेंद्र भसीन को गिरफ्तार करके जेल भेज चुकी है।