पीएम मोदी ने किया नए संसद भवन का भूमिपूजन तो भड़क उठे सुरजेवाला, ट्वीट कर कह दी बड़ी बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरूवार ( 10 दिसंबर, 2020 ) को नए संसद भवन का भूमिपूजन किया, इस दौरान सर्वधर्म प्रार्थना भी की गई, इसमें हिन्दू, सिख, ईसाई, मुस्लिम, बौद्ध, जैन एवं अन्य धर्मों के धर्मगुरु मौजूद रहे, जिन्होंने प्रार्थना की. हालाँकि कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला को ये सब बिल्कुल नहीं पसंद और उन्होंने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा।

नए संसद भवन सम्बंधित एक खबर के स्क्रीनशॉट को शेयर करते हुए कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुजरेवाला ने लिखा कि मोदी जी, इतिहास में यह भी दर्ज होगा कि जब अन्नदाता सड़कों पर 16 दिन से हक़ों की लड़ाई लड़ रहे थे तब आप सेंट्रल विस्टा के नाम पर अपने लिए महल खड़ा कर रहे थे ! लोकतंत्र में सत्ता, सनक पूरी करने का नहीं, जनसेवा और लोक कल्याण का माध्यम होती है।

एक अन्य ट्वीट में सुजरेवाला ने लिखा, मा. मोदी जी, संसद पत्थर से बनी इमारत नही,

संसद प्रजातंत्र है,
संसद संविधान की मर्यादाओं को मानना है,
संसद आर्थिक और सामाजिक समानता है,
संसद देश का भाईचारा और सद्भाव है,
संसद 130 करोड़ भारतीयों की आशा है।

ज़रूर सोचिए,
इन सब को रौंद कर बनाई गई नई संसद की इमारत कैसी होगी?

बता दें कि नया संसद भवन अत्याधुनिक, तकनीकी सुविधाओं से युक्त होगा. सोलर सिस्टम से ऊर्जा बचत भी होगी. नई लोकसभा मौजूदा आकार से तीन गुना बड़ी होगी और राज्यसभा के आकार में भी वृद्धि की गई है. ये नया संसद भवन ना केवल पुराने भवन से बड़ा होगा, बल्कि इसका आकार भी गोल ना होकर त्रिभुज के जैसा होगा। चार मंजिला नए संसद भवन का निर्माण 971 करोड रुपए की अनुमानित लागत से 64500 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में किए जाने का प्रस्ताव है. इसका निर्माण कार्य भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ तक पूरा कर लिया जाएगा।