किसान आंदोलन का समर्थन कर सिख एक्टर ने ब्राह्मणों और मंदिरों पर की आपत्तिजनक टिप्पणी, दर्ज हुआ केस

साभार - सोशल मीडिया

कृषि कानून के विरुद्ध पिछले 20 दिनों से दिल्ली में किसान आंदोलन कर रहे हैं, इस आंदोलन में न सिर्फ पंजाब के किसान बल्कि पंजाबी गायक, एक्टर भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं, इन्हीं में से कुछ सिख कलाकार इस आंदोलन को हिन्दुओं के खिलाफ जहर उगलने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं, पहले युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह ने हिन्दू महिलाओं पर अभद्र टिप्पणी की, अब एक पंजाबी एक्टर ने ब्राह्मणों पर आपत्तिजनक टिप्प्णी की है, इस पंजाबी कलाकार का नाम है जसविंदर भल्ला। अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में भल्ला के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई गई है.

कॉमेडियन जसविंदर भल्ला के खिलाफ पंजाब के ब्राह्मण संगठन श्री ब्राह्मण सभा ने एक लिखित शिकायत दी है, जिसमें उनकी धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया गया है।

शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि सेलिब्रिटी ने एक समुदाय के खिलाफ टिप्पणी पारित की थी। हालांकि, भल्ला ने आरोपों से इनकार किया है। शिकायतकर्ता विजय कुमार शर्मा, अधिवक्ता और ब्राह्मण सभा के एक सदस्य ने कहा कि भल्ला ने किसानों के विरोध से संबंधित एक वीडियो जारी किया था, जिसमें उन्होंने कुछ टिप्पणियां दी थीं, जिससे उनके समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची थी। इसके बाद, उन्होंने पुलिस आयुक्त राकेश अग्रवाल को एक लिखित शिकायत दी, जिन्होंने डीसीपी (कानून और व्यवस्था) अश्विनी कपूर को एक जांच के लिए अनुरोध किया।

शिकायतकर्ता राजन शर्मा, विजय कुमार शर्मा और उनके वकील ने आरोप लगाया कि “कलाकार की ओर से की गई टिप्पणियों से ब्राह्मण समाज को ठेस पहुंची है। उन्होंने कहा कि ब्राह्मण समाज ऐसी टिप्पणियों को कतई सहन नहीं करेगा और इस संबंध में पुलिस कमिश्नर को शिकायत सौंपी गई है।

उन्होंने कहा कि भल्ला ने हिंदू धर्म में एक अहम दर्जा रखने वाले मंदिरों व पंडितों पर आपत्तिजनक पोस्ट डाल कर उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। यदि उन्हें इंसाफ न मिला तो वे अपना संघर्ष और तेज करेंगे। वहीँ भल्ला का कहना है कि मैं सभी धर्मों का सम्मान करता हूं और किसी भी समुदाय के खिलाफ कोई बुरा नहीं कहा है। मैंने केवल किसी की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के इरादे से किसानों के विरोध के लिए एक वीडियो बनाया।