किसानों के वेश में वामपंथी, गद्दार छुपे हैं, इन्हें पकड़कर जेल में डालना चाहिए: साध्वी प्रज्ञा

कृषि कानून के खिलाफ पिछले लगभग 16 दिनों से दिल्ली में किसान आंदोलनरत हैं, किसान आंदोलन पर अब भाजपा सांसद साध्वी का बयान आया है, साध्वी का कहना है कि किसान आंदोलन के वेश में वामपंथी, कांग्रेसी और गद्दार छुपे हुए हैं, इनको पकड़कर जेल में डाला जाना चाहिए।

मध्यप्रदेश के भोपाल से भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ने प्रदर्शनकारियों पर निशाना साधते हुए कहा कि ये किसान नहीं हैं, किसानों के वेश में वामपंथी, काँग्रेसी छुपे हुए हैं, साध्वी ने कहा कि ये सब देशविरोधी ताकतों को इकट्ठा कर रहे हैं और किसानों को भ्रमित कर रहे हैं. ये आंदोलन नहीं है, ये राष्ट्रघात के लिए तैयार हैं. ऐसे लोगों को जल्द से जल्द सजा मिलनी चाहिए, नहीं जेल में डाला जाना चाहिए।

भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि पंजाब में कांग्रेस की सरकार है, पंजाब ने कृषि कानून लागू नहीं किया और पंजाब के किसान आंदोलन करने चले आये हैं, यदि पंजाब लागू करता, किसान आंदोलन करते तो समझ में आता. उन्होंने कहा कि इस आंदोलन में बाकी प्रदेश के किसान हिस्सा नहीं ले रहे हैं, सिर्फ वामपंथी और काँग्रेसी आंदोलंन कर रहे हैं. ये किसान नहीं है बल्कि किसानों को भ्रमित कर रहे हैं.

कृषि कानून को किसानों के हित में बताते हुए साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि जो बिल लाया गया है, वो शत प्रतिशत किसानों के हित में है, इसमें किसी प्रकार के सुधार की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि सुधार करके ही बिल लाया गया है.

गौरतलब है कि नए कृषि कानून के खिलाफ पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कुछ किसान संगठन दिल्ली में पिछले 16 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं, सरकार और आंदोलनरत किसानों के बीच अबतक 5 दौर की वार्ता हो चुकी है लेकिन बेनतीजा रही. किसान चाहते हैं कि कानून रद्द हो जबकि सरकार नहीं चाहती कि कानून रद्द हो, हाँ! कानून में संसोधन के लिए सरकार तैयार है.