पश्चिम बंगाल में लग सकता है राष्ट्रपति शासन, ममता पर आगबबूला हुए गवर्नर धनखड़ ने दिए संकेत!

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को कड़ी चेतावनी दी है, साथ ही राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने का भी संकेत दिया है, गवर्नर ने ये चेतावनी ऐसे वक्त में दी है जब कुछ घंटों पहले ही पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और कैलाश विजयवर्गीय के काफिले पर ईंट-पत्थरों से हमला हुआ था, हमलें का आरोप सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं पर लगा था.

राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने शुक्रवार ( 11 दिसंबर, 2020 ) को कहा कि अगर संविधान का पालन नहीं हुआ तो उनकी भूमिका शुरू हो जाएगी। इशारों में ही सही, लेकिन धनखड़ ने राष्‍ट्रपति शासन की चेतावनी तो दे ही दी है। गवर्नर ने केंद्र को एक रिपोर्ट भेजी है जिसमें राज्‍य की कानून-व्‍यवस्‍था पर गंभीर सवाल खड़े किए गए हैं।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चेतावनी देते हुए गवर्नर जगदीप धनखड़ ने कहा कि “ममता जी आग से मत खेलो. संविधान की आत्मा से कुठाराघात ठीक नहीं, अगर संविधान के रास्ते से आप भटकती है तो वहां से मेरे दायित्व की शुरुआत होती है”. गौरतलब है कि बंगाल में जेपी नड्डा के काफिले पर हुआ हमला देशभर में चर्चा का विषय बना रहा है. राज्य में सुरक्षा की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है, इसलिए ममता सरकार पर सवाल तो उठेगा ही.

इससे पहले राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा था कि पश्चिम बंगाल में कानून और व्यवस्था की स्थिति बहुत ही भयावह है। हमारे पास अल-कायदा जैसे आतंकी संगठन हैं। यह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है। 6 को गिरफ्तार किया गया और तीन अन्य जगहों से गिरफ्तार किए लोग भी इसी इलाके के हैं। पुलिस और राज्य एजेंसी को इसके बारे में कोई जानकारी नहीं थी, यह एक बहुत ही गंभीर मामला है। ये बयान गवर्नर ने उस वक्त दिया था जब बंगाल में एनआईए ने छापा मारकर कई आतंकियों को अरेस्ट किया था.