चीन को एक और करारी चोट देगी मोदी सरकार, कई टेलीकॉम वेंडर्स होंगे ब्लैकलिस्ट

pm-narendra-modi-warn-china-during-laddakh-visit

सोमवार ( 15 जून 2020 ) रात को भारत और चीन सेना के बीच लद्दाख के गलवान घाटी में हुई झड़प के बाद केंद्र की मोदी सरकार ने चीन के खिलाफ आर्थिक कार्यवाही करनी शुरू कर दी है। अब मोदी सरकार ने चीन को एक और बड़ी आर्थिक चोट देने की तैयारी कर रही है.

केंद्र सरकार ने बुधवार को ऐलान किया है कि वह कुछ ‘विश्वसनीय’ टेलीकॉम वेंडर्स की लिस्ट बनाएगी, जहां से टेलीकॉम से जुड़े उपकरणों को खरीदा जा सकेगा। सरकार के इस कदम से अटकलें लगाई जा रही हैं कि आने वाले दिनों में चीन के वेंडर्स को झटका लग सकता है। सरकार इस लिस्ट के जरिए कई टेलीकॉम वेंडर्स को ब्लैकलिस्ट भी कर सकती है।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित करने की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए, कैबिनेट ने टेलीकॉम क्षेत्र के लिए नेशनल सिक्योरिटी डायरेक्टिव्स को मंजूरी दे दी है। मंत्री ने आगे बताया कि इसी तरह से कुछ स्रोतों की एक सूची होगी जिनसे कोई खरीद नहीं की जाएगी।

गौरतलब है कि इससे पहले भारतीय रेलवे ने 44 वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों के निर्माण के टेंडर को रद्द कर दिया। मोदी सरकार ने सैकड़ों चाइनीज ऐप बैन कर दिए. भारत सरकार की कार्यवाही से चीन को भयंकर आर्थिक चोट पहुँची है.