फेक न्यूज़ फ़ैलाने वाली स्वरा भास्कर पर भड़के मेजर पुनिया, कहा- ये अर्बन नक्सली देश में दंगे कराना चाहते हैं

कृषि कानून के विरोध में पिछले लगभग एक महीनें से दिल्ली बॉर्डर पर पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कुछ किसान संगठन आंदोलन कर रहे हैं, आंदोलन के दौरान कई किसानों की मौत भी हो चुकी है…किसान आंदोलन की आड़ में झूठ और अफवाह भी जमकर फैलाई जा रही है, पुरानी तस्वीरों का इस्तेमाल किया जा रहा है..जिस व्यक्ति की सालों पहले मृत्यु हो चुकी है..उसे किसान आंदोलन से जोड़ा जा रहा है। फेक न्यूज़ फ़ैलाने वालों में बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर भी शामिल हैं.

दरअसल स्वरा भास्कर ने हाल ही में एक मृत किसान की फोटो शेयर करते हुए किसान आंदोलन से जोड़ा, सरकार को कोसा। जबकि स्वरा ने जिसकी फोटो शेयर की थी उसकी मूत 2 साल पहले हो चुकी थी, स्वरा भास्कर द्वारा फैलाये गए फेक न्यूज़ के बाद मेजर ( रिटायर्ड ) सुरेंद्र पुनिया ने कहा की कराँची और बीजिंग के टुकड़ों पर पलने वाले अर्बन नक्सली किसानों की भावनाओं को भड़का कर देश में दंगे और कत्लेआम कराना चाहते हैं।

मेजर सुरेंद्र पुनिया ने अपने ट्वीट में लिखा, Fake News & Paid Propaganda. पहली तस्वीर का अभी चल रहे किसान आंदोलन से कोई संबंध नहीं है। फ़ोटो 2- सच-यह 2018 की तस्वीर है. उन्होंने आगे लिखा, कराँची और बीजिंग के टुकड़ों पर पलने वाले अर्बन नक्सली किसानों की भावनाओं को भड़का कर देश में दंगे और कत्लेआम कराना चाहते हैं…मेजर पुनिया ने पने ट्वीट में गृह,मंत्रालय को टैग करते हुए पूछा, इनपर कार्यवाही कब होगी।

आपको बता दें कि सबसे पहले ‘ऑल इंडिया किसान संघर्ष’ नाम से बने एक ट्विटर अकाउंट से एक मृत व्यक्ति की तस्वीर शेयर करके उसे किसान आंदोलन से जोड़ा गया है, ट्वीट में लिखा गया है कि दुखी मन से बता रहा हूं, दिल्ली किसान मोर्चे में एक और किसान भाई शहीद हो गए, उनके इस शहादत को मै कोटि कोटि नमन करता हूँ। इसके बाद लिबरल गिरोह के लोग इस तस्वीर को शेयर करते हुए किसान आंदोलन से जोड़ने लगे।