किसान आंदोलन का आज 24वां दिन, सिंघु बॉर्डर पर चल रहा है गरम दूध का लंगर

कृषि कानून के विरोध में पिछले 24 दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी है, कृषि कानून को रद्द कराने के लिए 24 दिन से किसान डटे हुए हैं, इस दौरान किसानों की सेहत का भी ध्यान रखा जा रहा है ताकि किसी को कोई दिक्कत परेशानी न हो. सिंघु बॉर्डर पर आज सुबह गरम दूध का लंगर चल रहा है. तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि आंदोलनकारी किसान बड़ी कड़ाही में दूध उबालते हुए नजर आ रहे हैं.

सिंघु के अलावा टीकरी, दिल्ली-नोएडा और गाजियाबाद में भी किसानों का प्रदर्शन जारी है। धरना-प्रदर्शन पर बैठे हजारों किसान तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हैं। इससे पहले किसान संगठनों और केंद्र सरकार के बीच आधा दर्जन से भी अधिक बार बैठक हो चुकी है, लेकिन अब तक कोई नताजा नहीं निकला है।

उधर, शुक्रवार को नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संघों के आंदोलन के बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि केंद्रय सरकार को नए साल से पहले किसानों के मुद्दे का समाधान हो जाने की उम्मीद है। सरकार ने गतिरोध दूर करने के लिए विभिन्न किसान संगठनों के साथ अपनी अनौपचारिक वार्ता जारी रखी है।