370 हटा तो कश्मीर में तिरंगा उठाने वाला न मिलेगा, की धमकी देने वाली महबूबा का DDC चुनाव में हुआ बुराहाल

अगर जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटी तो कश्मीर में तिरंगा उठाने वाला कोई नहीं मिलेगा, की धमकी देने वाली महबूबा मुफ्ती की पार्टी पीडीपी का जम्मू कश्मीर जिला विकास परिषद ( DDC ) चुनाव में बुराहाल हो गया है. जम्मू कश्मीर के लोगों ने महबूबा मुफ्ती को DDC चुनावो में कश्मीर के राजनीतिक नक्शे से ही उठा दिया है.

जम्मू कश्मीर में 280 सीटों पर हुए जिला विकास परिषद ( DDC ) चुनाव के नतीजे आ गए हैं, इस चुनाव में भाजपा ने ऐतिहासिक विजय हासिल की, गुपकार गैंग सबसे आगे जरूर रहा लेकिन जम्मू कश्मीर में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी। हर समय देश के खिलाफ जहर उगलने वाले महबूबा-अब्दुल्ला को जम्मू कश्मीर की जनता ने नकार दिया है..भारत का झंडा न उठाने की बात करने वाली महबूबा मुफ्ती की पार्टी के नापाक अरमानों का जनाज़ा उठ गया है, पीडीपी सबसे फिसड्डी पार्टी साबित हुई.

कुल 280 सीटों में से अभी तक 273 के परिणाम सामने आ चुके हैं. फारुख अब्दुल्ला की अगुवाई वाले गुपकार गैंग ने 140 सीटें जीत ली हैं. वहीं अभी तक की गिनती में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी उभरी है. बीजेपी के खाते में अभी तक 74 सीटें आई हैं…

भाजपा ने कुल 74 सीटें जीती, फारूक अब्दुल्ला वाली नेशनल कांफ्रेस के कहते में 66 सीट गई, निर्दलीयों ने 49 सीटों पर विजय प्राप्त की, महबूबा मुफ्ती की पीडीपी मात्र 26 सीटें जीत सकी, कांग्रेस के खाते में 25 सीटें गई. बाकि अन्य सीटें पर जम्मू कश्मीर की क्षेत्रीय पार्टियों ने विजय हासिल की। यही नहीं महबूबा मुफ्ती की पीडीपी को भाजपा के मुकाबले कई गुना ज्यादा कम वोट भी मिले हैं. भाजपा को 4 लाख 80 हजार से ज्यादा वोट मिले हैं तो वहीँ पीडीपी को सिर्फ 55 हजार वोट मिले हैं. सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि भाजपा ने कश्मीर घाटी में भी 3 सीटें जीत ली.

loading...