इस साल कश्मीर में भारतीय सेना ने ठोंके 225 आतंकी, जो आतंकी बना, वो नरक लोक भेजा गया

साल 2020 में जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना ने 200 से ज्यादा आतंकियों को नरक लोक पहुंचाया, घाटी में जो-जो आतंक के रस्ते पर निकला उसका अंत ही हुआ. इस साल भारतीय सेना ने 225 आतंकियों को नरक लोक पहुंचाया। साल के आखिरी दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस कर डीजीपी दिलबाग सिंह ने पूरे साल घाटी में हुईं आतंकी गतिविधियों को लेकर जानकारी दी।

डीजीपी ने बताया, 2018 और 2019 की अपेक्षा इस साल घाटी में कम आतंकी घटनाएं हुई हैं। हालांकि 2019 की तुलना में इस साल स्थानीय युवाओं के आतंकी संगठन में शामिल होने की संख्या में इजाफा हुआ है।

दिलबाग सिंह ने बताया, ‘इसमें सकारात्मक पहलू यह है कि उनमें से 70 फीसदी का सफाया कर दिया गया है या फिर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। आतंकियों की शेल्फ लाइफ भी कम हुई है। डीजीपी ने आगे बताया कि पिछले तीन-चार साल की अपेक्षा इस साल पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ की अधिकतर कोशिशें नाकाम कर दी गई हैं।

पाकिस्तान की ओर से आतंकी गतिविधियों पर डीजीपी ने बताया, घुसपैठ की कोशिशों पर पानी फिरने की वजह से पाकिस्तानियों को स्थानीय आतंकियों पर निर्भर पड़ा और उन्होंने ड्रोन के जरिए हथियारों, विस्फोटक सामग्री और नकदी सप्लाइ करने की कोशिश की गई जिन्हें फोर्स ने नाकाम कर दिया।