कुछ लोग कह रहे हैं बीजेपी ने हैक कर लिया ईवीएम, जबकि हैदराबाद में हुए थे बैलट पेपर से चुनाव

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव की मतगणना जारी है। शुरुवाती रुझानों में भाजपा ने बम्पर बढ़त बनाई है. भाजपा लगभग 85 सीटों पर आगे चल रही है. भाजपा की बम्पर बढ़त के हारने वाली पार्टियों के नेताओं और समर्थकों ने पहले ही तरह फिर से ईवीएम का राग अलापना शुरू कर दिया है, विपक्षी अपनी कमियां ढूढ़ने के बाद हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ देते हैं, लेकिन इस बार उनकी पोल खुल गई है।

हैदराबाद चुनाव में हारने वाले कांग्रेस, टीआरएस और AIMIM समर्थक सोशल मीडिया पर कह रह रहे हैं कि भाजपा ने यहाँ भी ईवीएम हैक कर लिया, जबकि सच्चाई यह है कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव ईवीएम से नहीं बल्कि बैलट पेपर से हुआ था. इन पर्टियो के नेता पहले कहते थे अगर बैलट पेपर से चुनाव हो जाए तो भाजपा की जमानत जब्त हो जाए लेकिन ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव बैलट पेपर से ही हुआ और वहां भाजपा बम्पर जीत की ओर अग्रसर है।

असदुद्दीन ओवैसी के गढ़ में घुसकर भाजपा ने बम्पर बढ़त बना ली है. 150 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा 85 सीटों पर आगे चल रही है, टीआरएस ने 40 सीटों पर बढ़त बनाई है, वहीं असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM मात्र 12 सीटों पर आगे चल रही है. जबकि कांग्रेस सिर्फ 1 सीटों पर आगे चल रही है।

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव में सबसे बुराहाल कांग्रेस का है, पिछले चुनाव तक हैदराबाद में दबदबा रखने वाली कॉंग्रेस इस बार बेहद ही शर्मनाक हार की ओर आगे बढ़ रही है, भाजपा जहाँ 80 सीटों पर बढ़त बना ली है वहीँ कांग्रेस मात्र 1 सीटों पर आगे चल रही है।