जबतक वापस नहीं होगा कृषि कानून, तबतक होगा आंदोलन, राकेश टिकैत ने जनता से की ये अपील

कृषि कानून के विरोध में विरोध में पिछले 25 दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी है, अभी आंदोलन खत्म होने के आसार भी नहीं लग रहे हैं, भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा है कि जबतक कृषि कानून रद्द नहीं हो जाता, तबतक किसान आंदोलन जारी रहेगा।

राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक बिल वापिस नहीं होगा, MSP पर क़ानून नहीं बनेगा तब तक किसान यहां से नहीं जाएंगे। 23 तारीख को किसान दिवस के मौके पर किसान आप से कह रहे हैं कि एक समय का भोजन ग्रहण न करें और किसान आंदोलन को याद करें।

रविवार को संयुक्त किसान मोर्चा समन्वय समिति की बैठक हुई। इसमें फैसला लिया गया कि 21 दिसंबर से 24 घंटे रिले हंगर स्ट्राइक शुरू की जाएगी। देशभर में जहां भी धरना चल रहा है, वहां के किसानों से रिले हंगर स्ट्राइक में शामिल होने की अपील की गई है। इसकी शुरुआत 11 लोगों के साथ होगी। इसके अलावा किसानों के समर्थन में 23 दिसंबर को किसान दिवस के मौके पर देशवासियों से एक समय का खाना त्यागने की अपील भी की गई है।