जल्द ही कानून के शिकंजे में होंगी शेहला रशीद, टुकड़े-टुकड़े गैंग में छाया सन्नाटा! पोल खुलने का डर

दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी ( जेएनयू ) की पूर्व छात्रा शेहला रशीद जल्द ही कानून के शिकंजे में होंगी क्योंकि उनके अब्बा अब्दुल रशीद शोरा ने उनपर गंभीर आरोप लगाए हैं, शेहला रशीद के अब्बा अब्दुल रशीद शोरा ने डीजीपी दिलबाग सिंह को पत्र लिखकर कहा कि उनके घर में राष्ट्र विरोधी गतिवधियां चल रही हैं और शेहला ‘कुख्यात गतिविधियों’ में शामिल है। उन्होंने यह भी दावा किया है कि उन्हें उनकी बेटी द्वारा ही उन्हें मौत की धमकी दी जा रही है।

शेहला के पिता के इस सनसनीखेज खुलासे के बाद न सिर्फ शेहला की बल्कि पूरे टुकड़े-टुकड़े गैंग में सन्नाटा छा गया है, एंटी नेशनल गतिविधियों में लिप्त सभी को पोल खुलने का डर सतानें लगा है, हालाँकि शेहला रशीद ने अपने अब्बा के आरोपों को खारिज करते हुए उन्हें दुष्ट और अपमानजनक इंसान करार दिया है.

शेहला रशीद जल्द ही कानून के शिकंजे में होगी। पर बात शहला रशीद तक नहीं रुकेगी, राष्ट्रविरोधी फंडिंग की जांच शेहला रशीद की निशानदेही पर आगे तक जाएगी। इस बात को लेकर वामपंथ के जेएनयू गैंग की नींद उड़ गई है. कल तक शेहला रशीद के ‘साहस’ पर लहालोट होने वाले उसके ‘दुस्साहस’ पर ख़ामोश नज़र आ रहे हैं. टुकड़े-टुकड़े गैंग का कोई भी सदस्य शेहला के समर्थन में बोलता हुआ नहीं दिखाई दे रहा है.

शहला राशिद के पिता अब्दुल शोरा ने दावा किया कि उनकी बेटी ने जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के लिए तीन करोड़ रुपये लिए। उन्होंने शहला राशिद पर कहा कि वह एनजीओ भी चलाती है और उन एनजीओ की भी जांच होनी चाहिए। लीगल डॉक्युमेंट्स में वह अपने आपको बेरोजगार बताती है, तो ऐसे में पैसा कहां से आएगा। उसकी जांच होनी चाहिए। सभी को पता चल जाएगा कि फंडिंग कहां से आ रही है और क्यों आ रही है।

वहीं, शहला राशिद ने अपने पिता के आरोपों को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा, आप में से कई लोगों ने मेरे पिता द्वारा मुझपर, मेरी बहन और मां पर लगाए गए आरोपों वाले वीडियो को देखा होगा। छोटा और साफतौर पर बताते हुए कहूं तो वे अपनी पत्नी को पीटने वाले, अपमानजनक शख्स हैं। हमने आखिरकार, उनके खिलाफ कार्रवाई करने का फैसला लिया है और यह स्टंट उसी का रिएक्शन है।