ED ने जब्त की सम्पत्ति तो भड़क उठे अब्दुल्ला, कहा- कोर्ट में लड़ेंगे

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुपकर गैंग के मुखिया फारूक अब्दुल्ला पर प्रवर्तन निदेशालय ( ED ) का डंडा चला है, ED ने जम्मू-कश्मीर क्रिकेट घोटाला मामले में फारूक अब्दुल्ला की संपत्ति सीज कर दी है. ईडी की ओर से जेके क्रिकेट एसोसिएशन के फंड घोटाले में फारूक अब्दुल्ला से संबंधित 2 घर, 3 प्लॉट और एक प्रॉपर्टी अटैच की गई है. इसकी कीमत बाजार में करीब 12 करोड़ रुपये बताई जा रही है.

संपत्ति सीज किए जाने को लेकर जम्मू-कश्मीर के एक अन्य पूर्व मुख्यमंत्री और फारूक अब्दुल्ला के बेटे उमर अब्दुल्ला ने कहा कि उनके पिता वकीलों के संपर्क में हैं और आधारहीन आरोपों के खिलाफ लड़ाई करेंगे.

पिता की संपत्ति सीज किए जाने की खबरें आने के बाद उमर ने कहा कि डॉ. अब्दुल्ला अपने वकीलों के संपर्क में हैं और एक ही स्थान पर इन सभी आधारहीन आरोपों के खिलाफ लड़ेंगे। कानून की अदालत में, जहां सभी को निर्दोष माना जाता है और मीडिया की अदालत या बीजेपी नियंत्रित सोशल मीडिया की अदालत के विपरीत निष्पक्ष सुनवाई का हकदार है.

क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़े मामले में कई सालों पहले सीबीआई ने मामला दर्ज किया था. सीबीआई द्वारा दर्ज मामले को आधार बनाते हुए ईडी ने ये मामला दर्ज किया था। प्रवर्तन निदेशालय की ये जांच 2015 में सीबीआई द्वारा कई करोड़ के घोटाले को लेकर हुई दर्ज FIR पर आधारित है।