बड़ी मुसीबत में फँसे कांग्रेसी, हैदराबाद में सूपड़ा साफ़ होने के बाद EVM को भी नहीं दोषी ठहरा सकते

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव में एकात दो सीटों को छोड़कर लगभग सभी सीटों पर परिणाम घोषित कर दिए गए हैं, भाजपा ने इस बार ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए 45 से ज्यादा सीटों पर जीत दर्ज की, जबकि कांग्रेस का बुराहाल रहा, सभी सीटों पर सूपड़ा साफ़ हो गया, एक सीट चल रही है. वहीँ सत्तारूढ़ टीआरएस ने 58 तो ओवैसी की पार्टी AIMIM ने 39 सीटों पर जीत दर्ज की।

ख़ास बात यह है कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) का चुनाव ईवीएम से नहीं बल्कि बैलट पेपर से हुआ था, पहले विपक्षी अपनी कमियां ढूढ़ने के बाद हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ देते हैं, खासकर कॉंगेस इसमें सबसे आगे थी. लेकिन इस बार कांग्रेसी बड़ी मुसीबत में फंस गए हैं, क्योंकि हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव ईवीएम से नहीं बल्कि बैलट पेपर से हुआ था. इसलिए ईवीएम पर हार का ठीकरा फोड़ नहीं सकते।

असदुद्दीन ओवैसी के गढ़ में घुसकर भाजपा ने बम्पर जीत हासिल की, 150 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा 45 से ज्यादा सीटों पर जीत दर्ज की, भाजपा की इस जीत से दक्षिण के दरवाजे खुल गए हैं।

loading...