महबूबा, अब्दुल्ला के गढ़ में घुसकर बीजेपी ने दी पटखनी, घाटी में पहली बार खिला कमल

जम्मू कश्मीर 280 सीटों पर हुए डीडीसी चुनाव के परिणाम आज घोषित कर दिए गए, मतदान पोस्टल बैलट से होने की वजह से मतगणना में थोड़ी देरी लग रही है यानि फाइनल नतीजे आने में समय लगेगा। खैर अभी तक जो परिणाम आये हैं वो भाजपा के लिए सुखद संकेत है..दिलचस्प बात यह है कि जिस कश्मीर में कभी भाजपा का नाम लेना गुनाह माना जाता था वहां भी कमल खिल गया।

बीजेपी ने DDC चुनाव में नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी जैसे क्षेत्रीय दिग्गजों को पछाड़ते हुए घाटी में पहली बार जीत दर्ज की है. बीजेपी के ऐजाज हुसैन ने श्रीनगर में खोंमोह सीट पर और ऐजाज अहमद खान ने बांदीपोरा जिले में तुलैल सीट पर जीच दर्ज की है।

ऐजाज हुसैन ने जीत का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों और पार्टी कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत को देते हुए कहा कि डीडीसी चुनाव में बीजेपी एक तरफ बाकी अन्य सभी दल एक तरफ थे. उन्होंने कहा, लोगों ने प्रधानमंत्री और उनकी नीतियों में विश्वास दिखाया है. ये चुनाव नतीजे अन्य दलों के लिए यह संदेश है कि कश्मीर में राष्ट्रवादी काफी संख्या में हैं।

जीत दर्ज करने के बाद भाजपा उम्मीदवार एजाज हुसैन ने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में हम भाजपा को ज्यादा से ज्यादा सीटें जिताने के लिए मेहनत करेंगे। उन्होंने कहा कि मेरे कई बीजेपी के दोस्त शहीद हो चुके हैं, ये जीत मैं उनको समर्पित करता हूँ. आज अगर वो लोग ज़िंदा होते तो और ख़ुशी होती।

हुसैन ने कहा, ‘बीजेपी ने घाटी में गुपकार गठबंधन के खिलाफ अच्छी लड़ाई लड़ी. गुपकार गठबंधन वाले सभी इसलिए एक साथ आए क्योंकि वे चुनाव परिणामों के बारे में सोच कर डर रहे थे. इनके विरोध के बावजूद बीजेपी घाटी से जीती। ये सुखद संकेत हैं।