DDC चुनाव: महबूबा-अब्दुल्ला के नापाक अरमानों का उठा जनाजा, भाजपा ने जीती सबसे ज्यादा सीटें

जम्मू कश्मीर में हुए जिला विकास परिषद ( DDC ) चुनाव के नतीजे आ गए हैं, इस चुनाव में भाजपा ने ऐतिहासिक विजय हासिल की, गुपकार गैंग सबसे आगे जरूर रहा लेकिन जम्मू कश्मीर में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी। हर समय देश के खिलाफ जहर उगलने वाले महबूबा-अब्दुल्ला को जम्मू कश्मीर की जनता ने नकार दिया है..भारत का झंडा न उठाने की बात करने वाली महबूबा मुफ्ती की पार्टी के नापाक अरमानों का जनाज़ा उठ गया है, पीडीपी सबसे फिसड्डी पार्टी साबित हुई.

कुल 280 सीटों में से अभी तक 273 के परिणाम सामने आ चुके हैं. फारुख अब्दुल्ला की अगुवाई वाले गुपकार गैंग ने 140 सीटें जीत ली हैं. वहीं अभी तक की गिनती में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी उभरी है. बीजेपी के खाते में अभी तक 74 सीटें आई हैं…

वहीं निर्दलियों ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है. निर्दलियों के खाते में अभी तक 49 सीटें आई हैं. कांग्रेस को 25 सीटें मिली हैं वहीं अपनी पार्टी भी 12 सीटें अपनी खाते में करने में कामयाब रही है. बीजेपी का प्रदर्शन कश्मीर घाटी के मुकाबले जम्मू क्षेत्र में ज्यादा अच्छा रहा है।

भाजपा ने कुल 74 सीटें जीती, फारूक अब्दुल्ला वाली नेशनल कांफ्रेस के कहते में 66 सीट गई, निर्दलीयों ने 49 सीटों पर विजय प्राप्त की, महबूबा मुफ्ती की पीडीपी मात्र 26 सीटें जीत सकी, कांग्रेस के खाते में 25 सीटें गई. बाकि अन्य सीटें पर जम्मू कश्मीर की क्षेत्रीय पार्टियों ने विजय हासिल की।

सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि भाजपा ने कश्मीर घाटी में भी 3 सीटें जीत ली, जबकि महबूबा-अब्दुल्ला का गढ़ कहे जाने वाले श्रीनगर में इनको निराशा हाथ लगी. श्रीनगर में 13 सीटों पर चुनाव हुए थे, यहाँ गुपकार गैंग केवल एक सीट जीत पाया। आपको बता दें कि डीडीसी चुनाव के लिए भाजपा ने शाहनवाज हुसैन और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर को प्रभारी बनाया था., इन दोनों नेताओं ने जबरदस्त मेहनत की. जिसका असर नतीजों में दिख रहा है।