आपदा के समय में केजरीवाल ने ढूढ़-ढूढ़कर UP वालों को भगाया था, किस मुंह से लड़ेंगे UP विधानसभा चुनाव

delhi-cm-arvind-kejriwal-corona-latest-update-25-may

आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने मंगलवार ( 15 दिसंबर, 2020 ) को प्रेस-कॉन्फ्रेंस करके उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया, केजरीवाल के इस ऐलान के बाद सोशल मीडिया पर यूपी के लोग कह रहे हैं कि हम भी आपका बेसब्री से इन्तजार कर रहे हैं.

भाजपा के प्रवक्ता और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी ने ट्वीट करके कहा कि UP के लोग भूले नहीं वह अपमान, जब दिल्ली सरकार ने कोरोना आपदा के समय ढूंढ-ढूंढकर यूपी बिहार के लोगों को दिल्ली से भगाया, आधी रात उन्हें परिवार बच्चों के साथ भूखा प्यासा सड़क पर ला दिया, तब योगीजी ने ही पूरी रात जाग सुरक्षित घरों तक पहुँचाया। AAP का तो ‘ख़ास’ ही स्वागत करेंगे UP वाले।

वहीँ कुछ लोगों का कहना है कि उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी के चुनाव लड़ने से लोगों को मनोरंजन भी मिलेगा। क्योंकि चुनाव में जूते, चप्पल और स्याही फेंकी जाएंगी। गौरतलब है कि केजरीवाल पर अबतक दिल्ली में लगभग 9 बार जूते, चप्पलों से हमले हुए हैं परन्तु सभी प्रायोजित हमले थे, हमला करने वाले बाद में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता ही निकले।

वहीँ उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने ट्वीट कर कहा कि दो करोड़ की आबादी वाला दिल्ली संभल नहीं रहा 24 करोड़ की आबादी वाले उत्तर प्रदेश को संभालने की बात करने वाली पार्टी मुगेरीलाल के हसीन सपने देख रही है.

आपको बता दें कि केजरीवाल ने प्रेस-कॉन्फ्रेंस करके कहा कि जैसे दिल्ली में मोहल्ला क्लिनिक खोला हूँ, वैसे यूपी में भी मोहल्ला क्लिनिक खोलूंगा, जैसे दिल्ली में अच्छे अस्पताल बनाया हूँ, वैसे यूपी में भी अच्छे अस्पताल बनाऊंगा, जैसे दिल्ली में फ्री बिजली दिया हूँ, वैसे यूपी में भी फ्री बिजली दूंगा। जैसे दिल्ली में अच्छे स्कूल बनाया हूँ, वैसे यूपी में भी अच्छे स्कूल बनाऊंगा। केजरीवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता ने सभी पार्टियों को सरकार बनानें का मौक़ा दिया लेकिन विकास किसी ने नहीं किया, सिर्फ भ्रस्टाचार किया।