अर्नब के समर्थन में उतरा TV9 भारतवर्ष, पत्रकार की गिरफ़्तारी को बताया अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला

बुधवार ( 4 नवंबर, 2020 ) को तकरीबन सुबह साढ़े 6 बजे मुंबई पुलिस के जवान रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी के घर में घुसे और उन्हें जबरन घसीटकर लेकर चले गए अपने साथ, हथियारबंद पुलिसकर्मियों ने ये बताया भी नहीं कि वो किस लिए वहाँ आए हैं। अर्नब गोस्वामी को उनके घर से मुंबई पुलिस का एनकाउंटर दस्ता घसीटकर ले गया।

न्यूज़ चैनल टीवी 9 भारतवर्ष ने अर्नब गोस्वामी की गिरफ़्तारी की निंदा की है, मुंबई पुलिस की इस कार्यवाही को अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला बताया है, टीवी-9 भारतवर्ष के न्यूज़ डायरेक्टर हेमंत शर्मा ने कहा कि जिस तरीके से वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार किया गया वो सीधा-सीधा अभिव्यक्ति की आजादी और लोकतान्त्रिक व्यवस्था पर हमला है।

उन्होनें कहा कि मुंबई पुलिस के कुछ दिनों के घटनाक्रम को देखा जाय तो सीसे की तरह साफ़ हो जायेगा किस तरह मुंबई पुलिस बदले की कार्यवाही कर रही है, वरिष्ठ पत्रकार हेमंत ने कहा कि आपातकाल के बाद पहली बार किसी पत्रकार की इस तरह से गिरफ़्तारी हुई है.

आपको बता दें कि 2018 के एक केस का हवाला देते हुए मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार किया है, ये केस बंद हो चुका है लेकिन मुंबई पुलिस ने इसे फिर से खोला है. आरोप शायद ही अदालत टिक पाएं।