अर्नब की गिरफ़्तारी के बाद बोले संजय राउत, उस चैनल ने हमारे खिलाफ बदनामी कैम्पेन चलाया था

रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को महाराष्ट्र पुलिस की रायगढ़ यूनिट ने बुधवार की सुबह गिरफ्तार कर लिया है। सुबह लगभग साढ़े 6 बजे अर्नब को गिरफ्तार करके अलीगंज पुलिस स्टेशन ले जाया गया. अर्नब गोस्वामी की गिरफ़्तारी के बाद शिवसेना सांसद संजय राऊत का बयान सामने आया है, महाराष्ट्र की सत्तारूढ़ शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता संजय राऊत ने कहा कि उस चैनल ने हम सबके खिलाफ जिस प्रकार का बदनामी का कैंपेन चलाया था, झूठे इल्ज़ाम लगाए थे।

अर्नब की गिरफ़्तारी के बाद लोगों का कहना था कि महाराष्ट्र सरकार बदले की भावना से कार्यवाही कर रही है, इस पर जवाब देते अर्नब गोस्वामी ने कहा कि महाराष्ट्र की सरकार कभी बदले की भावना से कार्रवाई नहीं करती, महाराष्ट्र में कानून का राज है। पुलिस को जांच में कोई सबूत हाथ लगा होगा तो पुलिस किसी पर भी कार्रवाई कर सकती है.

संजय राउत ने आगे कहा कि उस चैनल ( रिपब्लिक टीवी ) ने हम सबके खिलाफ जिस प्रकार का बदनामी का कैंपेन चलाया था, झूठे इल्ज़ाम लगाए थे। हमने तो ये कहा कि कोई झूठे इल्ज़ाम लगाता है तो उसकी भी जांच होनी चाहिए।

आपको बता दें कि मुंबई पुलिस ने अर्नब गोस्वामी के घर पर छापा मारकर उन्हें गिरफ्तार किया है। वहीं, अर्नब का आरोप है कि मुंबई पुलिस ने उनके साथ मारपीट की। रिपब्लिक टीवी ने इस पूरी घटना के विजुअल दिखाए हैं, जिसमें पुलिस अर्नब गोस्वामी से उलझती दिख रही है। रिपब्लिक टीवी की एडिटर सम्याब्रत रे गोस्वामी ने इस पूरी घटना का ब्योरा देते हुए कहा कि पुलिसकर्मियों ने अर्णब के बाल पकड़ कर उन्हें उठाया और पुलिस वैन में बिठाकर साथ ले गए। मुझे जानकारी भी नहीं दी.