दिवाली पर पटाखे न फोड़ने का ज्ञान देने वालों के मुंह पर रजनीकांत का तमाचा, पटाखे फोड़कर मनाई दिवाली

भारत को एक धर्मनिरपेक्ष देश कहा जाता है, लेकिन ये धर्मनिरपेक्षता सिर्फ हिन्दुओं पर लागू होती है..बात जब मुस्लिमों की आती है तो सारी धर्मनिरपेक्षता धरी की धरी रह जाती है.! दरअसल हिन्दुओं का जब भी कोई त्यौहार होता है खासकर दिवाली तब तमाम सेलिब्रिटी, राज्य सरकारें ज्ञान बांटने आ जाते है कि पटाखे मत फोड़ो नहीं तो पॉल्यूशन फैलेगा। कई राज्यों में पटाखे बैन भी कर दिए गए हैं. दिवाली पर पटाखे न फोड़ने का ज्ञान देने वालों को रजनीकांत ने पटाखे फोड़कर करारा जवाब दिया है.

साऊथ सुपरस्टार रजनीकांत ने अपने परिवार संग दिवाली मनाई, इस दौरान वो छुरछुरिया जलाते दिखे, जो पटाखे की ही श्रेणी में आती है, रजनीकान्त का पटाखे जलाकर दिवाली मनाना उन लोगों के मुंह पर करारा तमाचा है जो कहते हैं कि दिवाली पर पटाखे नहीं फोड़ना चाहिए।

आपको बता दें कि राजस्थान, दिल्ली समेत कई राज्य सरकारों ने दिवाली पर पटाखों पर प्रतिबन्ध लगा दिया है, वहीँ मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार ने कहा है कि साल भर में एक ही बार दिवाली आती है जमकर पटाखे फोड़ो।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश खुशियों का प्रदेश है. यहां खुशियां मनाने पर कोई पाबंदी नहीं है. लोग जितना चाहे उतना पटाखे फोड़ सकते हैं. कोई रोक टोक नहीं है.