पाकिस्तान ने सिखों से छीना करतारपुर साहिब का प्रबंधन, भारत ने लगाई कड़ी फटकार

पाकिस्‍तान की इमरान खान सरकार अपनी चालबाजियों से बाज नहीं आ रही है, पाकिस्‍तान ने गुरु नानक देव जी के पवित्र स्थल करतारपुर साहिब का प्रबंधन सिखों से छीन लिया है। पाकिस्‍तान के इस कदम पर देशभर के सिख समुदाय में भारी आक्रोश है। वहीं केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने भी इस पर कड़ी नाराजगी जताई है। विदेश मंत्रालय ने इस मामले में पाकिस्‍तानी राजनयिक को तलब कर तगड़ी फटकार लगाई है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अनुराग श्रीवास्‍तव ने कहा कि पाकिस्तान का एकतरफा फैसला बेहद निंदनीय है, यह सिख समुदाय की धार्मिक भावनाओं और करतारपुर कॉरिडोर के प्रति उनकी भावनाओं के खिलाफ है। पाकिस्तान द्वारा इस तरह की कार्रवाई अल्पसंख्यक समुदायों के अधिकारों की रक्षा के उनके दावों की वास्तविकता को उजागर करता है।

उन्होंने कहा कि आज शाम पाकिस्तान उच्च आयोग के प्रभारी को तलब किया गया, हमने इस कार्रवाई का कड़ा विरोध दर्ज़ किया है। इसके साथ हमने उनसे इस फैसले को पलटने को भी कहा है।