महाराष्ट्र में नहीं बनेगा लव जिहाद पर कानून, उद्धव के मंत्री असलम शेख ने किया ऐलान

हरियाणा के बल्लबगढ़ में निकिता तोमर मर्डर केस के बाद देशभर में लव-जिहाद पर कानून बनानें की मांगे उठने लगी. लव जिहाद के मुद्दे को गम्भीरता से लेते हुए पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लव जिहाद के खिलाफ कानून बनानें का ऐलान किया, उसके बाद मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार ने कानून बनाने का ऐलान किया।

कांग्रेस पार्टी अब लव लिहाद पर बन रहे कानून के खिलाफ रोड़ा डाल रही है, पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने लव जिहाद कानून को असंवैधानिक बताया और अब महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि लव जिहाद पर कोई कानून नहीं बनेगा।

कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री असलम शेख ने कहा कि जो सरकारें अपनी अक्षमता छिपाना चाहती हैं, वे सरकारें ऐसे कानून ला रही हैं. उन्होंने महाराष्ट्र में लव जिहाद को लेकर कानून से इनकार करते हुए कहा कि यहां ऐसे किसी कानून की जरूरत नहीं है. गौरतलब है कि सबसे पहले यूपी सरकार ने लव जिहाद को लेकर कानून बनाने का ऐलान किया था.

इससे पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने कहा था कि लव जिहाद भाजपा द्वारा राष्ट्र को विभाजित करने और सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने के लिए निर्मित एक शब्द है। उन्होंने लिखा, विवाह व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला है, इस पर अंकुश लगाने के लिए कानून लाना पूरी तरह से असंवैधानिक है यह कानून की किसी भी अदालत में टिक नहीं पायेगा। लव में जिहाद का कोई स्थान नहीं है।

loading...