बिहार: नीतीश कुमार ने सातवीं बार ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, बनाया ऐतिहासिक रिकॉर्ड!

पटना, 16 नवंबर: जनता दल यूनाइटेड ( जदयू ) के मुखिया नीतीश कुमार ने आज सातवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली, बिहार में विधानसभा चुनाव 2020 में जीत के बाद आज एनडीए की नई सरकार का गठन हो गया है। नीतीश कुमार के बाद बीजेपी के तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी ने शपथ ली ये दोनों बिहार के उपमुख्यमंत्री बनेगे। कुल 14 विधायकों ने मंत्रिपद की शपथ ली.

जेडीयू के कोटे से 5 मंत्री बनें तो वहीँ भाजपा के कोटे से 7 मंत्री बने. एक-एक मंत्रिपद एनडीए के घटक दल हिंदुस्तान आवाम मोर्चा ( हम ) और विकाशशील इंसान पार्टी ( वीआईपी ) के कोटे में गया.

शपथग्रहण में शामिल होने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी पटना स्थित राजभवन पहुंचे। उधर आरजेडी ने शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्कार कर दिया है. तेजस्वी यादव शामिल नहीं हुए। कांग्रेस पार्टी ने भी शपथग्रहण का बहिष्कार किया है। हालाँकि इन दोनों को शपथग्रहण में शामिल होनें के लिए इनको निमंत्रण मिला भी था या नहीं इसकी पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है।

सातवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के साथ ही नितीश कुमार ने राष्ट्रीय स्तर पर सबसे ज्यादा बार मुख्यमंत्री बनने के रिकार्ड की बराबरी कर लेंगे। ये रिकार्ड अभी तक सिर्फ गोवा के मुख्‍यमंत्री रहे प्रताप सिंह राणे के पास है, जो 1980 से 2007 के बीच अलग-अलग समय में सात बार मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाल चुके हैं। लेकिन नीतीश ने अब संयुक्त रूप से इनकी बराबरी कर ली है.

कब-कब मुख्यमंत्री रहे नीतीश कुमार।
3 मार्च 2000 से 10 मार्च 2000 तक
24 नवंबर 2005 से 24 नवंबर 2010 तक
26 नवंबर 2010 से 17 मई 2014 तक
22 फरवरी 2015 से 19 नवंबर 2015 तक
20 नवंबर 2015 से 26 जुलाई 2017 तक
27 जुलाई 2017 से 15 नवंबर 2020 तक

loading...