निकिता तोमर केस: SIT का सराहनीय कार्य, मात्र 11 दिन में दाखिल की 700 पन्नों की चार्जशीट

faridabad-daughter-nikita-tomer-news

फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में हुए निकिता तोमर हत्याकांड में एसआईटी ने चार्जशीट दायर कर दी है। इस केस की जांच के लिए एक एसआईटी बनाई गई थी, जिसने 11 दिन में चार्जशीट फाइल कर दी. एसआईटी ने शुक्रवार की दोपहर करीब 1:00 बजे फरीदाबाद जिला अदालत की सुविधा कोर्ट के सुविधा केंद्र में 700 पन्नों की चार्जशीट दाखिल कर दी।

पूरी चार्जशीट करीब 700 पन्नों की है, जिसमें 60 गवाहों के बयान भी दर्ज किए गए हैं. एसआईटी ने इस चार्जशीट को 11 दिनों में तैयार किया है. पुलिस अधिकारियों ने चार्जशीट दाखिल करने के पहले लीगल पहलुओं को वरिष्ठ अधिकारियों से स्कूटनी भी कराई।

पुलिस का कहना है कि चार्जशीट दाखिल करने से पहले तमाम पहलुओं का ध्यान रखा गया और उनकी कोशिश है कि आरोपियों को जल्द से जल्द और कड़ी सजा दिलाई जा सके।

बीती 26 अक्टूबर की शाम फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में निकिता तोमर पेपर देकर कॉलेज से निकल रही थी. इसी दौरान, दो युवकों ने बंदूक की नोक पर उसका अपहरण करने की कोशिश की. निकिता के विरोध करने पर एक आरोपी ने उसे गोली मार दी. गोली लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी कार से फरार हो गए।

इसके बाद फरीदाबाद पुलिस ने जबरदस्त कार्यवाही करते हुए मुख्य आरोपी तौसीफ और रेहान को मात्र 24 और 48 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया।