तलोजा जेल में “ऑपरेशन अर्नब” पर लगाया गया 3 खूंखार गैंग, वकील के दावे से मचा हड़कंप

देश के नंबर-1 न्यूज़ नेटवर्क रिपब्लिक के एडिटर-इन-चीफ अर्णब गोस्वामी की जान इस समय खतरे में है, अर्नब को 3 दिन पहले मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, उसके बाद मुंबई की अलीबाग कोर्ट ने अर्नब को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया, कोरोना के खतरे को देखते हुए अर्नब को अलीबाग के क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था, आज सुबह मुंबई पुलिस ने उन्हें क्वारंटाइन सेंटर से तलोजा जेल शिफ्ट कर दिया गया.

तलोजा जेल शिफ्ट करने पर अर्नब ने अपनी जान को खतरा बताते हुए सुप्रीम कोर्ट से मदद की गुहार लगाई है, तलोजा जेल जेल खूंखार गैंग्स, आतंकवादियों और अपराधियों से भरा हुआ है, इसी जेल में आतंकवादी दाऊद इब्राहिम के भी गुर्गे मौजूद है और इसी जेल में कई और बड़े गैंगस्टर्स भी मौजूद है।

सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल जो अर्नब गोस्वामी के केस में लगातार एक्टिव बने हुए है अब उन्होंने एक गंभीर जानकारी साझा की है ट्विटर पर, प्रशांत पटेल ने ट्वीट कर कहा कि तलोजा जेल में अर्नब गोस्वामी के पीछे 3 खूंखार गैंग्स को लगाया गया है, उन्होंने ये भी बताया की किरीट सोमैया अर्नब गोस्वामी से मिलकर आये है और वो अर्नब को सुरक्षा की लगातार कोशिश कर रहे है.

रिटायर्ड मेजर जनरल जीडी बख्शी ने भी कहा है कि केंद्र सरकार और सुप्रीम कोर्ट को अर्नब मामलें में तत्काल दखल देना चाहिए क्योंकि जिस तलोजा जेल में अर्नब को ले जाया गया है वहां आतंकी दाऊद के गुर्गे हैं, अर्नब के साथ कुछ भी हो सकता है, जीडी बक्शी ने कहा कि अर्नब को सरबजीत सिंह नहीं बनाया जाना चाहिए।

बताते चलें कि अर्नब गोस्वामी ने अपनी जान को खतरा बताते हुए सुप्रीम कोर्ट से मदद की गुहार लगाई है. जेल जाते वक्त अर्नब गोस्वामी ने कहा था कि मुझे प्रताड़ित किया जा रहा है, सुबह 6 बजे मेरे साथ धक्कामुक्की की गई, मेरी जान को खतरा है, मुझे मेरे वकील से नहीं मिलने दिया जा रहा है।