ऐशो-आराम की जिंदगी जी रहे सजायाफ्ता कैदी लालू यादव, जेल के बजाय बंगले में बीत रहा जीवन

भ्रस्टाचार के आरोप में जेल की हवा खा रहे राष्ट्रीय जनता दल ( आरजेडी ) मुखिया लालू प्रसाद यादव सिर्फ नाम के जेल में बंद हैं, बाकि वो पूरे ऐशो-आराम के साथ जीवन व्यतीत कर रहे हैं. लालू यादव इस समय रिम्स निदेशक के बंगले में रह रहे हैं। जबकि रिम्स के निदेशक डाक्टर कामेश्वर प्रसाद पिछले दो दिनों से गेस्ट हाउस में हैं। लालू यादव काफी दिनों से बंगले में हैं.

निदेशक का कहना है कि समीक्षा करने के बाद निर्णय लिया जाएगा कि लालू प्रसाद कहां रहेंगे। लालू प्रसाद को जब रिम्स निदेशक बंगले में रखा गया था, तब यह खाली था। लेकिन नियम यह है कि निदेशक को अपने बंगले में ही रहना है। लालू प्रसाद नौ गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं। हाल के दिनों से उनकी तबीयत भी खराब चल रही है।

बता दें कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए लालू यादव को रिम्‍स के पेइंग वार्ड से केली बंगले में शिफ्ट किया गया था। तब से वे इसी बंगले में रह रहे हैं। गौरतकब है कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर चारा घोटाला के 5 मामले चल रहे हैं। इसमें से चार मामलों में उन्‍हें सजा हो चुकी है और एक मामला अभी लंबित है।

आपको बता दें कि झारखंड में कांग्रेस समर्थित झारखंड मुक्ति मोर्चा ( झामुमो ) की सरकार बनने के बाद से ही लालू यादव को राहत मिलनी शुरू हो गई. सरकार में आरजेडी भी शामिल है. इसलिए लालू यादव कहने के लिए बिरसा मुंडा कारागार में कैद हैं लेकिन वो बंगले में जीवन व्यतीत कर रहे हैं.