सोशल मीडिया पोस्ट पर हो सकती है 3 साल की जेल, इस राज्य में बनने जा रहा है कठोर कानून!

आजकल सोशल मीडिया का प्रचलन बढ़ गया है, लोग अभिव्यक्ति की आजादी के तहत कुछ न कुछ लिखते रहते हैं, जरुरी नहीं की सबको पसंद भी आये. किसी को बुरा भी लग सकता है. लेकिन केरल सरकार अब लोगों की अभिव्यक्ति की आजादी को छीनना चाहती है, जी हाँ! केरल में अब सोशल मीडिया पर कोई भी अपमानजनक पोस्ट लिखना भारी पड़ सकता है।

केरल की वामपंथी सरकार ने राज्य पुलिस अधिनियम में संशोधन के लिए अधिसूचित किया है। जिसके तहत सोशल मीडिया पर कुछ भी अपमानजनक पोस्ट करने के लिए तीन साल तक की जेल की सजा सुनाई जा सकती है। जबिक सुप्रीम कोर्ट ने 2015 में इसी तरह के कानून को खारिज कर दिया था।

केरल पुलिस अधिनियम में होने वाला ये संशोधन एक नया प्रावधान शामिल करता है – जो है धारा 118A। ये कहता है जो कोई भी किसी भी तरह के संचार, किसी भी मामले या विषय के माध्यम से किसी व्यक्ति को धमकाने, अपमानित करने या बदनाम करने के लिए कुछ भी प्रकाशित करता है तो उसे तीन साल तक की कैद हो सकती है या 10,000 रुपये के जुर्माना या सजा के रूप में दोनों दिए जा सकते हैं। देशभर में केरल सरकार के इस दमनकारी अधिनियम संसोधन के खिलाफ देशभर में विरोध हो रहा है। आपको बता दें कि केरल में एक वामपंथी सरकार है और पिनाराई विजयन मुख्यमंत्री हैं।