दिल्ली के आम लोगों का 2000 रूपये का चालान कटवाने वाले केजरीवाल ने किसानों की भीड़ का किया स्वागत

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कोरोना का हवाला देते हुए मॉस्क न लगाने वाले दिल्ली के लोगों का 2000 हजार रूपये चालान काटने का आदेश दिया। लोगों के ताबड़तोड़ चालान कट भी रहे हैं, जबकि यही केजरीवाल हजारों की भीड़ में आ रहे किसानों का स्वागत कर रहे हैं…हैरानी की बात यह है कि जिन किसानों का केजरीवाल स्वागत कर रहे हैं उनके चेहरे पर न तो मॉस्क है और न ही कोई सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के इस रवैये से दिल्ली के लोग खासे नाराज हैं, उनका कहना है कि हम लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करते और मॉस्क नहीं लगाते तो केजरीवाल हमसे 2000 रूपये जुर्माना वसुलवा लेते हैं जबकि हजारों की संख्या में पंजाब से किसान आ रहे हैं उनके चेहरे पर न मॉस्क है और न सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं. उनका चालान कटवाने के बजाय केजरीवाल उनका स्वागत कर रहे हैं।

लोगों का कहना है कि केजरीवाल भेदभाव की राजनीति कर रहे हैं, आखिर जिस गलती पर दिल्ली की जनता से जुर्माना वसुलवा रहे हैं उसी गलती पर किसानों से जुर्माना वसूलने के बजाय उनका स्वागत कर रहे हैं।

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा था कि कोरोना तेजी से बढ़ रहा है. ऐसे में मॉस्क लगाना जरुरी है, जो मॉस्क नहीं लगाएगा उससे 2000 रूपये जुर्माना वसूला जाएगा। पहले 500 रूपये जुर्माना था।

गौरतलब है कि कृषि कानून का विरोध करने के लिए पंजाब के कई हजार किसान दिल्ली कूच कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने किसानों को दिल्ली के बुराड़ी में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने की इजाजत दी है। बुराड़ी ग्राउंड में जाकर केजरीवाल के मंत्री राघव चड्ढा और जल बोर्ड के अधिकारियों ने तैयारियों का जायजा लिया और किसानों को खाना-पानी उपलब्ध करानें की बात कही। वहीँ अब खबर आ रही है कि दिल्ली पहुँचते ही सीएम केजरीवाल किसानों का स्वागत करेंगे।

loading...