गोलू और गुड्डू की बहन से छेड़खानी करता था मुश्ताक, दोनों भाइयों ने काट डाला मुश्ताक को, थाने पहुंचकर कबूला जुर्म

बहन से छेड़खानी करने पर गुड्डू और गोलू ने मुश्ताक नाम के एक शोहदे को कुल्हाड़ी से काट डाला, उसके बाद खून से सनी कुल्हाड़ी लेकर दोनों भाई थाने पहुंचे और बताया कि मुश्ताक को मौत के घाट उतार दिया है. यानि अपना जुर्म कबूल कर लिया। ये घटना लखनऊ के मोहनलालगंज के एक कस्बे की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोहनलालगंज में दुर्गा मंदिर के पास गोलू और गुड्डू दो भाई अपनी बहन के साथ रहते हैं। पड़ोस में रहने वाला ट्रक ड्राइवर मुश्ताक अक्सर उनकी बहन को छेड़ा करता था पर बहन ने अपने भाइयो से कभी कोई शिकायत नही की क्योंकि झगड़ा हो सकता था।

मुश्ताक ने जब हद्द पार कर दी तो बहन ने भाईयों से शिकायत कर दी, इसके बाद दोनो भाई तत्काल कुल्हाड़ी लेकर मुश्ताक के घर पहुँच गए, पहले तो घर से मुश्ताक को निकालकर जमकर मारा और उसके बाद सड़क पर लाये और उसे को कुल्हाड़ी से काट दिया। खून से सनी कुल्हाड़ी लेकर गुड्डू और गोलू पुलिस कोतवाली गए और शांति से अपने आप को सरेंडर कर दिया। पुलिस ने दोनों को तुरंत गिरफ्तार कर लिया।

कोतवाली पहुँचने के बाद दोनों भाइयों कहा कि मुश्ताक कई दिनों से बहन को परेशान कर रहा था, इसलिए उसे मार डाला। वहीँ मुश्ताक के भाई ने दोनों भाइयों के अलावा युवती की माँ व् बहन को भी नामजद किया है. पुलिस ने आरोपी की माँ को भी हिरासत में लिया है।

रविवार (22 नवंबर 2020) को मुश्ताक कंटेनर लेकर कोलकाता जा रहा था। जैसे ही वह थोड़ी दूर स्थित भवानी खेड़ा पहुँचा, तभी उसका गोलू की बहन से विवाद हो गया। दोनों के बीच काफी बहस हुई लेकिन मौके पर मौजूद लोगों ने दखल देकर पूरा मामला शांत करा दिया। इसके बाद युवती अपने घर पहुँची और वहाँ उसने पूरी घटना की जानकारी अपने घर वालों को दी। उसके बाद दोनों भाई मुश्ताक के घर पहुंचे और उसे काट डाला।

घटना की जानकारी मिलते ही मुश्ताक के परिजन घटनास्थल पर पहुँचे और उसे स्थानीय अस्पताल लेकर गए। जहाँ चिकित्सकों ने उसकी हालत गंभीर बताते हुए ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया। वहाँ मुश्ताक को मृत घोषित कर दिया।

loading...