आतंकियों के लिए काल बना राफ़ेल: फ़्रांस ने राफेल से ही बरसाया बम, 50 से ज्यादा आतंकी हुए ख़ाक

फ़्रांस में हुए इस्लामिक आतंकी हमलों के बाद फ़्रांस ने बड़ा एक्शन लिया है, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फ्रांस ने माली में बुरकिनो फासो और नाइजर की सीमा के नजदीक एयर स्ट्राइक कर दी, इस एयरस्ट्राइक में 50 से ज्यादा आतंकियों के मारे जानें की खबर है. बताया जा रहा है कि ये सभी आतंकी कुख्यात आतंकी संगठन अलकायदा से जुड़े थे.

अंतराष्ट्रीय मीडिया के मुताबिक, आतंकी अड्डों पर बम बरसाने के लिए फ़्रांस ने राफेल का इस्तेमाल किया और फ्रेंच एयर फाॅर्स की सर्जिकल स्ट्राइक में 50 से भी ज्यादा इस्लामियों की मौत हुई है।

फ्रेंच सरकार ने सोमवार को कहा कि इस्लामिक आतंकवाद से जूझ रहे सेंट्रल माली में माली की सेना की मदद करने के लिए फ्रांस ने एयर स्ट्राइक किया जिसमें ये आतंकी मारे गए। फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले ने माली की सरकार से मुलाकात के बाद कहा, फ्रांस की सरकार जिहादियों के खिलाफ ऑपरेशन बरखाने चला रही है। इसके तहत 30 अक्टूबर को चलाए गए ऑपरेशन में 50 से ज्यादा आतंकी मारे गए, उनके हथियार जब्त कर लिए गए और कई आतंकियों को गिरफ्तार भी किया गया है।

एयरस्ट्राइक करने से पहले फ़्रांस ने ड्रोन से इस क्षेत्र में आतंकियों की पहचान की। उसके बाद हमला किया। उन्होंने कहा कि 4 आतंकियों को पकड़ा गया है। इसके अलावा विस्फोटक और सुसाइड वेस्ट भी बरामद किए गए हैं। उन्होंने दावा किया कि ये आतंकी सेना को निशाना बनाने जा रहे थे।

गौरतलब है कि फ़्रांस में हुए इस्लामिक आतंकी हमलें के बाद फ़्रांस ने साफ़ कर दिया था कि वो इस्लामिक आतंकियों का समूल नाश करके ही मानेंगे। अब फ़्रांस ने अपनी कथनी को चरितार्थ करना भी शुरू कर दिया है, अलकायदा के 50 आतंकियों को ठोंककर ट्रेलर दिखा दिया है।