यूपी में हुआ लव जिहाद के कानून का उदघाटन, उवैश अहमद पर दर्ज हुई FIR

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार जो कहती है, उसको कर दिखाती है, ये एक बार फिर साबित हो गया है, फरीदाबाद में निकिता तोमर हत्याकांड के बाद देशभर में लव-जिहाद पर कानून बनानें की मांग उठी। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने तुरंत कानून बनानें का ऐलान किया, चंद दिनों में अध्यादेश कैबिनेट में पास भी हो गया और फिर राज्यपाल ने मंजूरी दे दी। यही नहीं उत्तर प्रदेश में लव जिहाद कनून का उद्द्घाटन भी हो गया। जबकि कई राज्य अभी लव जिहाद पर कानून बनानें का विचार ही कर रहे हैं। यूपी के बरेली में ‘लव ज‍िहाद’ को लेकर पहली FIR पंजीकृत हुई है।

बरेली जिले में ‘लव जिहाद’ कानून के तहत के तहत मामला दर्ज किया गया है। यह जानकारी उत्तर प्रदेश के कानून व्यवस्था एडीजी प्रशांत कुमार ने दी। एडीजी लॉ एन्ड आर्डर ने बताया कि ‘उत्तर प्रदेश में विधि विरूद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश 2020 के तहत पहला मामला दर्ज किया गया है। बरेली के देओरानियां पुलिस थाना में एक मामला दर्ज किया गया है, जिसमें उवैश अहमद नाम के व्यक्ति पर आरोप है कि एक लड़की को जबरन धर्म परिवर्तित कराने का प्रयास कर रहा है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश की तरह हरियाणा, मध्य प्रदेश और असम जैसे कई अन्य बीजेपी शासित राज्यों ने भी इसी तरह के कानून पारित करने के लिए मसौदा तैयार किया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूपी उपचुनाव प्रचार के दौरान घोषणा की थी कि उनका प्रशासन एक ऐसा कानून लाएगा जो शादी के लिए जबरन धर्म परिवर्तन को रोकेगा। सीएम योगी ने जो कहा, उसे कर दिखाया।

 

loading...