आंदोलनकारी किसानों से मिले सुरजेवाला, कहा- कांग्रेस किसान के साथ चट्टान की तरह खड़ी है

कृषि कानून के विरोध में पंजाब के किसान दिल्ली कूच कर रहे हैं, हालाँकि किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने भारी भरकम बैरिकेडिंग कर दी है लेकिन देश के अन्नदाता हर बाधाओं को तोड़कर तीव्र गति से दिल्ली को ओर बढ़ रहे हैं. कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला भी सुबह-सुबह किसानों से मिलने पहुंचे और उन्होंने भरोसा दिलाया कि कांग्रेस पार्टी किसान के साथ चट्टान की तरह खड़ी है. सुरजेवाला ने पानीपत में किसानों से मुलाक़ात की.

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने केंद्र सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि क्या दिल्ली सिर्फ मुट्ठी भर पूंजीपतियों की तिजोरी की रक्षा करने वालों के लिए बनी है? क्या भारतवर्ष की राजधानी दिल्ली पर किसान का हक़ नहीं है? आज किसानों से इतनी नफरत क्यों हो गई? आज पानीपत, हरियाणा जा कर किसानों के संघर्ष को समर्थन दिया।

एक दूसरे ट्वीट में सुजरेवाला ने लिखा, कांग्रेस किसान के साथ चट्टान की तरह खड़ी है, अब टूट गिरेंगी जंजीरें, अब ज़िन्दानों की ख़ैर नहीं, जो दरया झूम के उठे हैं, तिनकों से न टाले जायेंगे। कटते भी चलो, बढ़ते भी चलो, बाजू भी बहुत हैं सर भी बहुत, चलते भी चलो के अब डेरे, मंजिल पे ही डाले जायेंगे।

कल पंजाब के किसानों ने कृषि कानून के विरोध में दिल्ली कूच किया, शंभू बॉर्डर की तरफ से दिल्ली जा रहे किसान को रोकने की कोशिश की गई, रोड पर न सिर्फ बैरिकेडिंग लगाए गए थे बल्कि बड़े-बड़े पत्थर भी रख दिए गए थे. ऐसे में सवाल यह उठता है कि सरकार को किसानों से इतना डर क्यों लग रहा है. क्योंकि उन्हें दिल्ली पहुँचने से रोकने के लिए तमाम तिकड़म किये जा रहे हैं.

किसानों का मनोबल तोड़ने के लिए उनपर वॉटर कैनन का प्रयोग किया। हालाँकि किसान भी डरे सहमे नहीं। सभी मुश्किलों को झेलते हुए अपनी मंजिल की तरफ बढ़ते रहे. ठण्ड के समय में खुले आसमान के नीचे रात गुजारने के बाद किसानों ने सुबह फिर से दिल्ली के लिए कूच कर दिया।