बॉम्बे हाईकोर्ट ने नहीं दी अर्नब गोस्वामी को जमानत, अभी रहना होगा तलोजा जेल में ही

बॉम्बे हाईकोर्ट ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को अंतरिम राहत देने से इनकार कर दिया है, अदालत ने कहा कि सेशंस कोर्ट में जमानत अर्जी लगा सकते हैं, चार दिन में फैसला देगा। जस्टिस एसएस शिंदे और एमएस कार्णिक की खंडपीठ ने ये आदेश दिया। बता दें कि अर्नब इस समय तलोजा जेल में बंद हैं। अर्नब को रविवार ( 8 नवंबर, 2020 ) को अलीबाग क्वारंटाइन सेंटर से तलोजा जेल भेज दिया गया।

तलोजा जेल शिफ्ट करने पर अर्नब ने अपनी जान को खतरा बताते हुए सुप्रीम कोर्ट से मदद की गुहार लगाई है, तलोजा जेल खूंखार गैंग्स, आतंकवादियों और अपराधियों से भरा हुआ है, इसी जेल में आतंकवादी दाऊद इब्राहिम के भी गुर्गे मौजूद है और इसी जेल में कई और बड़े गैंगस्टर्स भी मौजूद है।

अर्नब गोस्वामी ने अपनी जान को खतरा बताते हुए सुप्रीम कोर्ट से मदद की गुहार लगाई है. जेल जाते वक्त अर्नब गोस्वामी ने कहा था कि मुझे प्रताड़ित किया जा रहा है, सुबह 6 बजे मेरे साथ धक्कामुक्की की गई, मेरी जान को खतरा है, मुझे मेरे वकील से नहीं मिलने दिया जा रहा है। अर्नब जी जमानत याचिका पर आज सेशंस कोर्ट में सुनवाई होगी।