BJP विधायक ललन पासवान ने लालू यादव को दिया दिया जवाब, गरीब हूं पर बिकाऊ नहीं, मुझे खरीद नहीं सकते

चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव ने झारखण्ड में जेल से बिहार की राजनीति को प्रभावित करने की कोशिश की लेकिन उनके मंसूबों पर पानी फिर गया क्योंकि जिस भाजपा विधायक को लालू यादव ने मंत्रिपद का लालच देकर खरीदने की कोशिश की दरअसल वो बिकाऊ नहीं बल्कि ईमानदार निकले। इन भाजपा विधायक का नाम है ललन पासवान। इन्होनें लालू यादव के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करा दिया है.

राष्ट्रीय जनता दल ( आरजेडी ) मुखिया लालू प्रसाद यादव के खिलाफ एफआई दर्ज कराने के बाद बीजेपी विधायक ललन पासवान ने कहा कि मैं गरीब हूं पर बिकाऊं नहीं। कुछ दिन पहले ही लालू ने ललन पासवान को बिहार विधानसभा अध्यक्ष चुनाव में महागठबंधन उम्मीदवार का साथ देने के लिए प्रलोभन दिया था। इसी मामले में विधायक ने पटना में एफआईआर दर्ज कराई है।

इसके बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि बिहार का सबसे गरीब विधायक होने के साथ ही मैं दलित हूं। यह आम धारणा है कि दलित व गरीब आदमी बिकाऊ होता है। यह धारणा कब बदलेगी। सामाजिक न्याय के पुरोधा कहे जाने वाले लालू प्रसाद ने जिस तरह से फोन कर मुझे खरीदने की कोशिश की, उससे दुखी हूं।

गुरुवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में ललन पासवान ने कहा कि मैं पढ़ा-लिखा और स्वाभिमानी हूं। राष्ट्रवादी राजनीति कर रहा हूं। हमने प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत निगरानी थाने में मुकदमा किया है। मुझे कानून पर भरोसा है और उम्मीद है कि मुझे न्याय मिलेगा।