26/11 के हमले के बाद मनमोहन ने पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई करने इनकार कर दिया था, ओबामा का सनसनीखेज खुलासा

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने एक और सनसनीखेज खुलासा किया है, ओबामा की नई किताब आने के साथ ही भारत की राजनीति में कई मुद्दे गर्माने लगे हैं। राहुल और सोनिया गांधी के बाद अब ओबामा ने मनमोहन सिंह पर तंज किया है।

ओबामा ने अपनी नई किताब में दावा किया है कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह मुंबई में 26/11 के आतंकी हमलों के बाद पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई करने से बच रहे थे। ओबामा ने लिखा कि हालांकि मनमोहन सिंह को बाद में इसका राजनीतिक नुकसान भी उठाना पड़ा। ओबामा ने अपनी किताब में दावा किया कि मनमोहन सिंह इस बात से चिंतित थे कि देश में मुस्लिम विरोधी भावनाएं बढ़ रही हैं और इसका सीधा फायदा बीजेपी को होगा।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ने मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री बनने की वजह बताई है। किताब में कहा गया है कि ‘मनमोहन सोनिया की वजह से पीएम बने। उन्होंने कहा कि ‘मनमोहन अपनी लोकप्रियता की वजह से प्रधानमंत्री नहीं बने बल्कि उनको सानिया गांधी ने पीएम बनाया।

इस बारे में एक से अधिक राजनीतिक विश्‍लेषकों का मानना है कि सोनिया गांधी ने मनमोहन सिंह का चुनाव काफी सोच समझ किया था। क्योंकि मनमोहन सिंह एक ऐसे बुजुर्ग सिख नेता थे जिनका कोई राष्ट्रीय राजनीतिक आधार नहीं था। ऐसे नेता से उन्हें अपने 40 साल के बेटे राहुल के लिए कोई सियासी खतरा नहीं दिखा, क्योंकि तब वो उन्हें बड़ी भूमिका के लिए तैयार कर रहीं थीं। आपको बता दें कि इसी किताब में ओबामा ने राहुल गांधी को नर्वस नेता बताया है।