अर्नब की गिरफ़्तारी पर भड़के असम के मंत्री, कहा- बाला साहब की नालायक औलाद ने अपने पिता को..?

बुधवार ( 4 नवम्बर, 2020 ) को मुंबई पुलिस ने वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया था, अर्नब की गिरफ़्तारी से पूरे देश में गुस्सा है, चूँकि पुलिस ने देश के माने-जाने पत्रकार को एक क्रिमिनल की भांति गिरफ्तार किया। गिरफ्तार करने मुंबई पुलिस का एनकाउंटर दस्ता एके-47 लेकर आया था।

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के संपादक अर्नब गोस्वामी की गिरफ़्तारी के बाद असम के मंत्री हिमंता विश्व सरमा ने सीएम उद्धव ठाकरे पर हमला बोलते हुए उन्हें बाला साहब की नालायक औलाद करार दिया है, असम के शिक्षा और वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि उद्धव ने राष्ट्र के विश्वास के साथ विश्वासघात किया है। उन्होंने कहा कि ठाकरे ने अपने दिवंगत पिता, महाराष्ट्र और देश को बदनाम किया है।

उद्धव ठाकरे के बाद मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह पर निशाना साधते हुए हिमंता विश्व सरमा ने कहा कि वह पूरे भारत में सबसे कायर अधिकारी हैं। उन्होंने कहा- मैंने सुना था कि मुंबई पुलिस कमिश्नर एक मजबूत अधिकारी थे लेकिन अर्णब गोस्वामी को गिरफ्तार करने के लिए उन्हें एके-47 के साथ पुलिस भेजनी पड़ी, इसका मतलब है कि वह पूरे भारत में सबसे कायर अधिकारी हैं।

वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी की गिरफ़्तारी की केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से लेकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह तक ने निंदा की, कुछ लोगों ने तो यहाँ तक कह डाला की जिन लोगों ने आपातकाल नहीं देखा था, वो महाराष्ट्र में देख लें.

आपको बता दें कि अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस उन्हें रायगढ़ पुलिस स्टेशन ले गई, काफी देर तक वहां बैठाये रही उसके बाद अलीबाग की एक अदालत में पेश किया। पुलिस ने अदालत से अर्नब की रिमांड मांगी लेकिन कोर्ट ने पुलिस की मांग को खारिज करते हुए अर्नब को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। अर्नब के वकील आज बॉम्बे हाईकोर्ट में उनकी जमानत याचिका लगाएंगे।