कुम्भ पर सवाल उठाने वाले उदित राज को योगी के मंत्री ने दिया करारा जवाब

कुम्भ को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता उदित राज द्वारा दिए गए विवादित बयान को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है, उदित राज ने कुंभ मेले के आयोजन में सरकारी फंड के इस्तेमाल पर सवाल उठाए हैं। और कुम्भ का आयोजन बंद करने की मांग की थी. अब योगी सरकार में मंत्री ने उदित राज को करारा जवाब दिया है।

मदरसा और कुंभ की तुलना करते हुए उदित राज ने ट्वीट करके कहा, असम सरकार ने सरकारी फंड से मदरसे न चलाने का निर्णय किया है उसी तरह यूपी सरकार को कुंभ मेले के आयोजन पर 4200 करोड़ रुपये नहीं खर्च करने चाहिए। इस पर उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि कुंभ मेला किसी धर्म विशेष का नहीं है। उन्होंने कहा, 110 देशों ने कुंभ में भाग लिया है और अपने झंडे गाड़े हैं और गंगा में डुबकी लगाई है। कुंभ सभी के लिए होता है, किसी विशेष धर्म का नहीं। किसी को इस पर टिप्पणी नहीं करनी चाहिए।

कानून मंत्री ने कहा,कांग्रेस पार्टी हमेशा वोट-राजनीति पर आधारित रही है। चूंकि उन्होंने सत्ता खो दी है, वे भ्रमित हो गए हैं। मुझे लगता है कि राज्य सरकार के धन का उपयोग सामाजिक कल्याण के लिए किया जाना चाहिए न कि धर्म के लिए- जैसा कि संविधान में कहा गया है।

बता दें कि कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता उदित राज ने अपने ट्वीट में लिखा था, सरकारी पैसे से किसी धर्म की पढ़ाई नही की जानी चाहिए और न धार्मिक करम कांड हों। कांग्रेस प्रवक्ता आगे लिखते हैं- सरकार का कोई धर्म नही होना चाहिए, इलाहबाद के कुंभ मेला में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 4200 करोड़ का खर्च भी नही करना चाहिए था। उदित राज के इस ट्वीट के बाद कांग्रेस पार्टी की जमकर फजीहत हो रही है। हालाँकि उदित राज ने बाद में सफाई देते हुए अपना ट्वीट डिलीट कर दिया।