मोदी बोले- हाथरस केस के बहाने जातीय हिंसा फैला दुनिया में भारत की छवि खराब करना चाहता है राहुल गांधी

हाथरस काण्ड को लेकर सियासत तेज है, इस कांड के जरिये कांग्रेस यूपी में अपनी खोई हुई जमीन पाना चाहती है, इसके लिए राहुल गांधी और प्रियंका गाँधी जमकर सियासत कर रहे हैं, एक भी मौक़ा नहीं गंवा रहे हैं, हाथरस केस में हद से ज्यादा सक्रिय हुए राहुल गांधी पर भाजपा नेता सुशील मोदी ने निशाना साधा है, मोदी ने कहा कि हाथरस केस के जरिये जातीय हिंसा फैलाकर दुनिया में भारत को बदनाम करने की कोशिश हो रही है, इस साजिश में राहुल गांधी भी शामिल हैं.

भाजपा नेता व् बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, हाथरस की दुखद घटना के बाद जातीय हिंसा भड़काने और दुनिया में भारत की छवि खराब करने की बड़ी साजिश में शामिल राहुल गांधी बतायें कि पूर्णिया की घटना पर वे चुप क्यों हैं? क्या लाश पर राजनीति करने वाले जीव तभी जमा होंगे, जब घटनास्थल, मरने वाले का जाति-धर्म-लिंग और हत्यारों का जाति-धर्म- सब-कुछ उनकी पोलिटिकल स्क्रिप्ट के अनुकूल होगा?

मोदी ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, सामाजिक न्याय का ढोंग करने वालों ने अपने उम्मीदवारों की सूची जारी करने से पहले पूर्णिया में सामाजिक न्याय की बलि चढ़ायी। यह चुनाव-पूर्व हिंसा राजद को भारी पड़ेगी। बतातें चलें कि 2 दिन पहले बिहार के पूर्णिया में एक दलित नेता की ह्त्या कर दी गई थी, मृतक नेता की पत्नी ने तेजस्वी और तेजप्रताप पर ह्त्या का आरोप लगाया है, क्योंकि दलित नेता ने तेजस्वी पर टिकट के बदले 50 लाख रूपये मांगने का आरोप लगाया था।

आपको बता दें कि गुरुवार को केरल के वायनाड से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा 2 दिन पहले हाथरस पहुँची और पीड़ित परिवार से मुलाक़ात की, इस दौरान राहुल गाँधी ने कहा कि यूपी में जंगलराज है, योगी आदित्यनाथ सरकार को इस्तीफा दे देना चाहिए उनसे यूपी नहीं सम्भल रहा है।