गोंडा में गोली मारे जाने के बाद भी ज़िंदा बचे पुजारी लेकिन सुरजेवाला ने बता दिया ह्त्या

रविवार को सुबह-सुबह खबर आई कि गोंडा में एक पुजारी को गोली मारी गई है, गंभीर अवस्था में उपचार के लिए पुजारी को अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन इस घटना के जरिये योगी सरकार पर निशाना साधने के चक्कर में कांग्रेस नेता सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि पुजारी की सरेआम ह्त्या कर दी गई. जबकि असलियत यह है कि पुजारी ज़िंदा है और खतरे से बाहर है.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने अपने ट्वीट में लिखा, अब गोंडा, यू.पी में मंदिर के पुजारी संत सम्राट दास की गुंडों ने की सरे आम हत्या। काश हिंदी मीडिया के चैनल और साथी राजस्थान की तरह यहाँ भी जबाबदेही माँगते। ओह! भूल हो गई, आदित्यनाथ व भाजपा से जबाब माँगना मना है। सीएम योगी आदित्यनाथ के नाम के आगे योगी न लिखकर सुरजेवाला ने सीएम के खिलाफ विषवमन भी किया।

हालाँकि जिस पुजारी को सुरजेवाला समेत पूरी कांग्रेस मृत बता रही है वो ज़िंदा हैं, स्वस्थ हैं, संत सम्राट दास के शरीर पर मामूली चोट है, वे पुलिस कार्रवाई से पूरी तरह संतुष्ट हैं, ज़मीनी रंजिश में जिन लोगों ने हमला किया वे गिरफ़्तार हो चुके हैं, लेकिन सुरजेवाला ने बिना जांचे परखे ज़िंदा संत को मृत घोषित कर दिया।

आपको बता दें कि गोंडा में इटियाथोक थाना क्षेत्र के तिर्रे मनोरमा में राम जानकी मंदिर है, मंदिर के पुजारी सम्राट दास को गोली मारी गई थी, कोतवाल संदीप कुमार सिंह ने बताया था कि अतुल बाबा उर्फ सम्राट दास राम जानकी मंदिर तिर्रे मनोरमा में पूजा पाठ करते हैं और विगत दो साल से मंदिर पर रहते हैं। उनको गोली मारी गई हालाँकि गनीमत यह रही कि गोली कंधे को छूते हुए निकल गई. गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हुए पुजारी को ईलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया, हालत ज्यादा गंभीर होनें पर डॉक्टरों ने लखनऊ के लिए रेफर कर दिया। अब पुजारी की हालत सही है.