राहुल गांधी नेशनल लीडर हैं, उनका कॉलर पकड़कर उन्हें जमीन में रगड़ा गया, ये लोकतंत्र के लिए खतरा है: संजय राउत

हाथरस काण्ड को लेकर सियासत तेज है, इस कांड के जरिये कांग्रेस यूपी में अपनी खोई हुई जमीन पाना चाहती है, इसके लिए राहुल गांधी और प्रियंका गाँधी जमकर सियासत कर रहे हैं, हालाँकि सियासत करते-करते राहुल गांधी गिर पड़े, संजय राउत ने इसे लोकतंत्र के लिए खतरा बताया है.

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि राहुल गांधी एक राष्ट्रीय पॉलिटिकल नेता हैं, हमारा हमारा कांग्रेस के साथ मतभेद हो सकता है लेकिन कोई भी उनके साथ पुलिस के व्यवहार का समर्थन नहीं कर सकता … संजय राउत आगे कहते हैं उनका कॉलर पकड़ा गया और उन्हें जमीन पर धकेल दिया गया, एक तरह से यह गैंगरेप है देश के लोकतंत्र के लिए। ”

आपको बता दें कि गुरुवार को केरल के वायनाड से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा सैकड़ों कांग्रेसी नेता व् कार्यकर्ता के साथ हाथरस जा रहे थे पीड़िता के परिवार से मिलने। बताते चलें कि हाथरस में दो हफ्ते पहले एक 19 वर्षीय लड़की के साथ बर्बरता हुई थी, 3 दिन पहले दिल्ली के अस्पताल में पीड़िता की मौत हो गई।

पीड़ित परिवार से मुलाक़ात करने के लिए राहुल गांधी दिल्ली से हाथरस के लिए निकल पड़े परन्तु हाथरस से लगभग 142 किलोमीटर पहले यमुना एक्सप्रेस-वे पर पुलिस ने राहुल गांधी और उनके काफिले को रोक दिया, क्योंकि हाथरस में जिला प्रसाशन ने धारा 144 लगाई है।

पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद कांग्रेसी कार्यकर्ता पुलिस के साथ धक्कामुक्की करने लगे, इसी दौरान धक्का लगने से राहुल गांधी भी जमीन पर गिर गए, हालाँकि कांग्रेस ने दावा किया है कि पुलिस ने जानबूझकर राहुल गांधी को धक्का देकर गिराया।

loading...