राहुल गांधी ‘पैदल मार्च’ करके हाथरस जा रहे थे, उन्हें गिराकर उनका मजाक उड़ाया गया: रवीश कुमार

हाथरस काण्ड को लेकर सियासत तेज है, इस कांड के जरिये कांग्रेस यूपी में अपनी खोई हुई जमीन पाना चाहती है, इसके लिए राहुल गांधी और प्रियंका गाँधी जमकर सियासत कर रहे हैं, इस मामलें में एनडीटीवी के रवीश कुमार ने भी राहुल गांधी का समर्थन किया है।

दरअसल हुआ यह है कि गुरुवार को केरल के वायनाड से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा सैकड़ों कांग्रेसी नेता व् कार्यकर्ता के साथ हाथरस जा रहे थे पीड़िता के परिवार से मिलने। बताते चलें कि हाथरस में दो हफ्ते पहले एक 19 वर्षीय लड़की के साथ बर्बरता हुई थी, 3 दिन पहले दिल्ली के अस्पताल में पीड़िता की मौत हो गई।

पीड़ित परिवार से मुलाक़ात करने के लिए राहुल गांधी दिल्ली से हाथरस के लिए निकल पड़े परन्तु हाथरस से लगभग 142 किलोमीटर पहले यमुना एक्सप्रेस-वे पर पुलिस ने राहुल गांधी और उनके काफिले को रोक दिया, क्योंकि हाथरस में जिला प्रसाशन ने धारा 144 लगाई है।

पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद कांग्रेसी कार्यकर्ता पुलिस के साथ धक्कामुक्की करने लगे, इसी दौरान धक्का लगने से राहुल गांधी भी जमीन पर गिर गए, जिसके बाद उनका जमकर मजाक उड़ाया जाने लगा सोशल मीडिया पर परन्तु रवीश कुमार ने राहुल गांधी का समर्थन किया है।

एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार ने कहा कि राहुल गांधी ‘पैदल मार्च’ करके हाथरस जा रहे थे पीड़िता से मिलने लेकिन उन्हें जानबूझकर धक्का देकर गिराया गया ताकि उनका मनोबल तोड़ा जा सके और उनका मजाक उड़ाया जा सके. और भी यही राहुल गांधी गिर पड़े और उनका मजाक उड़ने लगा।

loading...