चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा कोर्ट में बयान से मुकरी, विरोधियों को लगा बड़ा सदमा!

पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानन्द पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली लॉ छात्रा अपने आरोपों से मुकर गई है. मंगलवार को 23 वर्षीय छात्रा लखनऊ की विशेष MP-MLA अदालत में जज के सामने अपने पहले लगाए गए सभी आरोपों से मुकर गई।

पीड़ित छात्रा के बयान बदलने से पूर्व सांसद चिन्मयानंद को बड़ी राहत मिली है. शाहजहांपुर में चिन्मयानंद के कॉलेज से एलएलएम कर रही छात्रा ने उनके खिलाफ बलात्कार के आरोप लगाए थे। छात्रा ने दिल्ली के लोधी कॉलोनी पुलिस स्टेशन में 5 सितंबर 2019 को चिन्मयानंद के खिलाफ बलात्कार, धमकी देने के आरोपों के साथ शिकायत दर्ज़ कराई थी.

इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर लखनऊ के विशेष MP-MLA कोर्ट में इस मामले की सुनवाई हो रही है. शाहजहांपुर के इस मामले में गिरफ्तार होने के बाद चिन्मयानंद करीब पांच महीने जेल में रहे थे। लॉ छात्रा के आरोपों से मुकरने के बाद अचंभित अभियोजन पक्ष ने छात्रा के खिलाफ पक्षद्रोही या बयान बदलने पर धारा 340 के तहत मुक़दमे की अर्ज़ी दाख़िल की है. इस मामले की अगली सुनवाई 15 अक्टूबर को होगी। लॉ छात्रा के मुकरने के बाद विरोधियों को सदमा लग गया है, चिन्मयानन्द के बहाने भगवा को निशाना बनाने वालों के होश पाख्ता हो गए हैं.