राजस्थान: कांग्रेस में फिर बजा बगावत का बिगुल, कांग्रेस MLA ने CM गहलोत पर लगाया गंभीर आरोप

जयपुर, 13 अक्टूबर: राजस्थान की कांग्रेस सरकार में फिर से बगावत के शुरू उठे हैं, हाल ही में कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने बगावती तेवर दिखाए थे, कांग्रेस आलाकमान के दखल के बाद मामला सुलह पर पहुंचा, अब कांग्रेस विधायक बाबूलाल ने बगावत के सुर बुलंद करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर गंभीर आरोप लगाया है। कांग्रेस विधायक ने सीएम गहलोत पर दलितों को अनदेखा करने का आरोप लगाया है।

राजस्थान के कठूमर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक बाबूलाल बैरवा ने अशोक गहलोत सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि जब भी मैं दलितों के काम के लिए कोई कागज देता हूं वह काम नहीं होता है। अपनी बात को मजबूती देते हुए कांग्रेस विधायक ने कहा कि अभी स्वास्थ्य विभाग में ही 4 ट्रांसफर दिए थे जिसमें से एक ब्राह्मण थे और 3 दलित थे। ब्राह्मण का टाइटल देखकर उसका ट्रांसफर कर दिया गया, जबकि तीनों दलितों का ट्रांसफर नहीं हुआ।

कांग्रेस विधायक बाबूलाल बैरवा ने कहा कि हमारे नेता राहुल गाँधी कहते हैं कि भाजपा दलितों और अल्पसंख्यकों को इंसान नहीं समझती है जबकि हकीकत यह है कि ये सब खुद कांग्रेस पर ही चरितार्थ हो रहा है, अब राहुल गाँधी जी इसपर क्या कहते हैं इसका इन्तजार रहेगा।

इसके अलावा बैरवा ने कहा कि यह भी कहा कि मुझे टिकट दिलवाने और जितवाने में सचिन पॉयलट का अहम् योगदान रहा, मैं गुर्जरों के वोट से जीता हूँ, अशोक गहलोत के सैनी और माली ने तो मुझे वोट ही नहीं दिया था, कांग्रेस विधायक का अपनी सरकार पर सवाल उठाना राजस्थान में पार्टी की अंतर्कलह को एक बार उजागर कर रही है।