कोर्ट ने दिया पेश होने का आदेश, अब TUV में बैठाकर अतीक अहमद को गुजरात से लाएगी UP पुलिस

पूर्व सांसद और डकैती, ह्त्या सहित सैकड़ों केसों में अपराधी अतीक अहमद को कोर्ट से बड़ा झटका लगा है, प्रयागराज की स्पेशल एमपी-एमएलए कोर्ट ने यूपी आने के बजाय वीडियो कांफ्रेंसिंग से सुनवाई किये जाने की अतीक अहमद की अर्जी को खारिज कर दिया है. स्पेशल कोर्ट ने यूपी के गृह सचिव को अतीक को 13 नवम्बर को प्रयागराज की कोर्ट में सुरक्षा के पुख्ता इंतजामों के साथ पेश करने का निर्देश भी दिया है।

अतीक अहमद अगर इस फैसले को ऊपर की किसी अदालत में चुनौती देकर वहां से कोई राहत नहीं पाता तो उसे न चाहते हुए भी 13 नवम्बर को कोर्ट में हाज़िर होना पड़ेगा। अतीक अहमद को लेने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस गुजरात जायेगी, कहा जा रहा है कि यूपी पुलिस महिंद्रा TUV में बैठाकर सड़क के जरिये गुजरात से यूपी लाएगी।

आपको बता दें कि अतीक अहमद ने यूपी पुलिस और अपने दुश्मनों से जान के खतरे का अंदेशा जताते हुए पेशी पर आने से छूट की मांग करते हुए वीडियो कांफ्रेंसिंग के ज़रिये सुनवाई किये जाने की अर्जी दाखिल की थी। यूपी सरकार के वकीलों ने इसका पुरज़ोर विरोध किया था और कहा था कि आरोप तय होते वक्त मुल्ज़िम का कोर्ट में व्यक्तिगत रूप से हाज़िर होना ज़रूरी होता है और ऐसे मामलों में वीडियो कांफ्रेंसिंग से पेशी नहीं हो सकती। कोर्ट ने सरकारी वकीलों की इस दलील को मंज़ूर करते हुए अतीक की अर्जी खारिज कर दी है. सवाल यह है कि अतीक और मुख़्तार जैसे माफिया योगी राज में सचमुच यूपी आने से डर रहे हैं या फिर वह किसी और वजह से बहानेबाजी कर रहे हैं।