बेकार नहीं जाएगा निकिता का बलिदान, धर्म को बचाने के लिए कानून भी हाथ में ले सकते हैं: सूरजपाल अमू

एकतरफा प्यार में पगलाए तौसीफ ने परीक्षा देकर घर लौट रही बी.कॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता तोमर की दिनदहाड़े गोली मारकर ह्त्या कर दी, घटना फरीदाबाद के बल्लबगढ़ की है। फरीदाबाद पुलिस ने इस मामलें के मुख्य आरोपी तौसीफ और रेहान को गिरफ्तार कर लिया है, इस घटना के बाद देशभर में आक्रोश है।

करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूरजपाल अमू आज गुरुवार ( 29 अक्टूबर, 2020 ) को दिवंगत निकिता तोमर के परिवार से मिलने बल्लबगढ़ अपना सोसाईटी पहुंचे, इस दौरान सूरजपाल ने कहा कि निकिता ने अपना धर्म बचाने के लिए बलिदान दिया है, निकिता का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। हिंदुस्तान में अब कोई लव-जिहाद नहीं होगा, करणी सेना बर्दाश्त नहीं करेगी।

सूरजपाल अमु ने ऐलान करते हुए कहा कि अगर हमें कानून हाथ में लेना पड़ा तो हम अपने धर्म को बचाने के लिए कानून भी हाथ में लेंगे, मारेंगे, ये सब कृत्य अब बर्दाश्त नहीं होगा, हम लोग कबतक सहते रहेंगे। इसके अलावा अमु ने कांग्रेस नेता राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी वाड्रा पर भी निशाना साधा। बताते चलें कि निकिता के हत्यारे तौसीफ का कांग्रेस से कनेक्शन है, उसके चच्चा आफताब आलम मेवात से कांग्रेस विधायक हैं. अब्बा भी अच्छे राजनीतिक रसूखदार वाले हैं. हाथरस पर हल्ला मचाने वाले राहुल-प्रियंका निकिता तोमर के मर्डर पर बिल्कुल खामोश हैं।

सूरजपाल अमु ने कहा कि निकिता तोमर की ह्त्या करके देश के 110 करोड़ हिन्दुओं को चैलेन्ज किया गया है, हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे, इसके अलावा उन्होंने कहा कि जब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार निर्णय कर सकती है तो हरियाणा की खट्टर सरकार क्यों नहीं? राज्य सरकार देश की भावना को समझे और जल्द फैसला करे. उन्होंने कहा, हमें खून के बदले खून चाहिए। अंत में सूरजपाल अमु ने कहा कि निकिता के हत्यारों को फरीदाबाद के चौराहे पर या तो गोली मारी जाय, या फांसी पर लटकाया जाय। उन्होंने कहा कि अगर न्याय नहीं हुआ तो करणी सेना के पास बहुत रास्ते हैं न्याय के लिए।

आपको बता दें कि हरियाणा सरकार ने निकिता मर्डर केस की जांच के लिए SIT का गठन कर दिया है। राज्य के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि, हम देखेंगे कि 2018 में जो मुकदमा रद्द हुआ था क्यों हुआ था, हो सकता है कि आरोपी के परिवार ने मुकदमा वापस लेने के लिए पिता पर दबाव बनाया हो। आरोपी का ताल्लुक कांग्रेस से है।