TRP स्कैम: दो चैनलों के बैंक अकाउंट सील

हाल ही में मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमवीर सिंह ने प्रेस-कॉन्फ्रेंस करके कथित टीआरपी घोटाले का पर्दाफाश किया था, मुंबई पुलिस कमिश्नर ने दावा किया था कि पैसे देकर टीआरपी बढ़वाई जाती थी, इससे चैनलों रेवेन्यू बढ़ता था, टीआरपी स्कैम में परमबीर सिंह मुख्य रूप से रिपब्लिक टीवी का नाम ले रहे थे लेकिन एफआईआर में रिपब्लिक का नाम है ही नहीं। एफआईआर में इंडिया टुडे का नाम है जोकि एक अंग्रेजी न्यूज़ चैनल है।

टीआरपी स्कैम मामलें में अब मनी लॉन्ड्रिंग का भी खुलासा हुआ है, जिसकी वजह से दो न्यूज़ चैनलों के बैन अकाउंट्स सील कर दिए गए, मिली जानकारी के मुताबिक, फख्त मराठी और बॉक्स सिनेमा नाम के चैनलों के दो-दो बैंक अकाउंट्स सोमवार को सील कर दिए गए हैं।

क्राइम ब्रांच इस बात की भी पड़ताल कर रही है कि फर्जी टीआरपी वाली जांच के घेरे में आए चैनल से जुड़े लोग कहीं मनी लॉन्ड्रिंग के अपराध में तो शामिल नहीं हैं। अब तक क्राइम ब्रांच इस केस में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी थी। सोमवार को क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट (CIU) के सीनियर इंस्पेक्टर सचिन वझे की टीम ने पांचवें आरोपी विनय त्रिपाठी को मिर्जापुर से गिरफ्तार किया है। आगे की कार्यवाही जारी है।