14 दिन के लिए जेल भेजे गए PFI के चारों जमूरे, हाथरस केस के बहाने UP में दंगा कराना चाहते थे

हाथरस केस के बहाने उत्तर प्रदेश में दंगा कराने की साजिश रचने वाले पीएफआई के चारों सदस्यों को सीजेएम कोर्ट ने 14 दिन के लिए जेल दिया है, दो दिन पहले यूपी पुलिस ने मथुरा से पीएफआई चारों सदस्यों को गिरफ्तार किया था. पीएफआई के जारों जमूरों की पहचान अतीकउर रहमान, सिद्दीकी, मसूद अहमद और मो. आलम के रूप में हुई है.

आपको बता दें कि इन चारों के खिलाफ बुधवार को ही मथुरा के मांट पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई थी. मुजफ्फरनगर के अतीकउर्रहमान, केरल के आलम सिद्दीक, बहराइच के मसूद अहमद और रामपुर के आलम पर अवैध तरीके से विदेशी फंडिंग जुटाने, दंगा भड़काने की साजिश रचने और हाथरस में कथित गैंगरेप के मामले में अफवाहें फैलाने का आरोप है.

इससे पहले उपनिरीक्षक प्रबल प्रताप सिंह ने बुधवार सुबह मांट पुलिस स्टेशन में चारों पीएफआई सदस्यों के खिलाफ हाथरस में शांति भंग करने, धार्मिक उन्माद फैलाने और दंगा भड़काने की साजिश रचने, देशद्रोह, विदेशी फंडिंग से देश विरोधी गतिविधियों का संचालन करने के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई थी. उन्होंने एफआईआर में बताया कि ये चारों हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे थे. इसके बाद दंगे भड़काने की साजिश थी. लेकिन यूपी पुलिस ने इनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया।