लखनऊ: विधानसभा के पास खुद को आग लगाने वाली महिला की मौत, अंजलि से बनी थी आइशा

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मंगलवार शाम को विधानसभा के पास बीजेपी प्रदेश कार्यालय के गेट नंबर-4 के सामने आत्मदाह का प्रयास करने वाली महिला की अस्‍पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई है. महिला 90 फीसदी तक जल चुकी थी. उसे श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविल अस्पताल के बर्न यूनिट में भर्ती कराया गया था. महिला का नाम अंज​ली तिवारी था. आठ वर्ष पहले महाराजगंज के रहने वाले अखिलेश तिवारी के साथ हुई थी. कुछ दिनों बाद दोनों के बीच तलाक हो गया था.

इसके बाद अंजली महाराजगंज शहर में ही राजघराना साड़ी सेंटर पर काम करने लगी. इसी दौरान वीरबहादुर नगर निवासी आसिफ से उसके प्रेम संबंध हो गए. पुलिस के मुताबिक आसिफ के प्यार में अंजली धर्म परिवर्तन कर आयशा बन गई. दोनों ने निकाह किया. लेकिन आसिफ कभी आयशा (अंजली) को अपने घर नहीं ले गया और कुछ दिनों बाद सऊदी कमाने चला गया. आयशा अपने शौहर के घर में रहने की जिद करने लगी. जब तमाम कोशिशों के बावजूद उसे आसिफ के घर में जगह नहीं मिली तो उसने आत्मदाह का रास्ता चुना.